केंद्रीय कैबिनेट का बड़ा फैसला, 1 अप्रैल से 45 साल से ऊपर सभी को लगेगी कोरोना वैक्सीन

Prakash Javadekar
केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि वैक्सीनेशन प्रोग्राम अच्छी तरह से और तेजी से चल रहा है। अभी तक 4 करोड़ 85 लाख लोगों को वैक्सीन की खुराक दी गई है।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंगलवार को मंत्रिमंडल की बैठक में बड़ा फैसला लिया गया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल ने फैसला किया है कि 1 अप्रैल से 45 साल से ऊपर के सभी लोग कोरोना की वैक्सीन लगवा सकते हैं।  

इसे भी पढ़ें: कोरोना का बढ़ रहा कहर, 24 घंटे में मिले 40,715 नए मरीज, 199 की मौत 

इस दौरान उन्होंने बताया कि वैक्सीनेशन प्रोग्राम अच्छी तरह से और तेजी से चल रहा है। अभी तक 4 करोड़ 85 लाख लोगों को वैक्सीन की खुराक दी गई है। जिनमें से 4 करोड़ लोगों को कोरोना की पहली खुराक लगी है जबकि 85 लाख लोग ऐसे हैं जिनको कोरोना की दूसरी खुराक भी दी जा चुकी है।  

सभी लोग रजिस्टर करें अपना नाम

उन्होंने कहा कि एक अप्रैल के बाद 45 साल से ऊपर के हर व्यक्ति के लिए वैक्सीन उपलब्ध रहेगी। उसके लिए व्यक्ति को किसी भी तरह के प्रमाणपत्र की आवश्यकता नहीं होगी। इसके अलावा वैज्ञानिक आधार पर मंत्रिमंडल ने दूसरा निर्णय भी लिया है। उन्होंने बताया कि पहले बताया गया था कि पहली खुराक के बाद 4 से 6 हफ्ते के बीच में वैक्सीन की दूसरी खुराक लेनी चाहिए लेकिन अब वैज्ञानिकों ने कोविशील्ड की दूसरी खुराक में 4 से 8 हफ्तों के अंतर की बात कही है। 

इसे भी पढ़ें: अब 28 दिन नहीं, 8 हफ्ते बाद लगेगी कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज ! सरकार का अहम फैसला 

इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों से अपना नाम रजिस्टर कराने की अपील की। उन्होंने यह भी बताया कि हमारे पास वैक्सीन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। इसकी चिंता करने की जरूरत नहीं है। हमें इस बात का अभिमान है कि देश की दोनों वैक्सीन सफल है। यहां तक की प्रधानमंत्री मोदी ने कोवैक्सीन लेकर इस अभियान की शुरुआत की थी।  

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़