रेत विवाद में बाप-बेटे की लाठियों से पीट-पीटकर हत्या, 17 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 28, 2020   17:02
रेत विवाद में बाप-बेटे की लाठियों से पीट-पीटकर हत्या, 17 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज

मध्यप्रदेश में टीकमगढ़ जिला मुख्यालय से 25 किलोमीटर दूर एक गांव में शनिवार देर रात रेत का अवैध कारोबार करने वाले लोगों ने आपसी विवाद के चलते एक पिता-पुत्र की लाठियों से पीट-पीट कर हत्या कर दी।

टीकमगढ़। मध्यप्रदेश में टीकमगढ़ जिला मुख्यालय से 25 किलोमीटर दूर एक गांव में शनिवार देर रात रेत का अवैध कारोबार करने वाले लोगों ने आपसी विवाद के चलते एक पिता-पुत्र की लाठियों से पीट-पीट कर हत्या कर दी। पुलिस ने मामले में 17 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। बल्देवगढ़ पुलिस थाने के पुलिस निरीक्षक बृजेश कुमार ने बताया कि बनियानी गांव में किसान देशराज लोधी (57) और उसके पुत्र गुलाब लोधी (35) की हत्या के आरोप में मोहन लोधी एवं विन्द्रावन लोधी सहित 17 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

इसे भी पढ़ें: मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के 183 नए मामले, कुल संक्रमितों की संख्या 12261 हुई

आरोपियों की तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि मोहन और विन्द्रावन अपने घर के सामने रेत धो रहे थे। रेत का पानी देशराज के दरवाजे के सामने भरने लगा तो उसने इसकी शिकायत मोहन से की। इस पर मोहन का उससे विवाद होने लगा। मामला बढ़ता देख मोहन के अन्य साथियों और परिजन ने देशराज पर लाठियों से हमला कर दिया। पिता के साथ मारपीट होते देख उसके दोनों बेटे गुलाब और जाहर ने उन्हें बचाने का प्रयास किया लेकिन हमलावर उन पर भी टूट पड़े। उन्होंने बताया कि इस हमले में गुलाब ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

इसे भी पढ़ें: मध्यप्रदेश के उमरिया में ‘विस्फोटक मिश्रित’ भोजन खाने से गाय घायल, पुलिस जांच शुरू

जबकि देशराज, जाहर और देशराज की पत्नी सोनाबाई (55) गंभीर रुप से घायल हो गये। तीनों को इलाज के लिये अस्पताल में भर्ती किया गया जहां देशराज की इलाज के दौरान मौत हो गयी। उन्होंने बताया कि घटना के संबंध में मोहन सहित कुल 17 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि आरोपी रेत का अवैध कारोबार करते हैं और घटना के बाद फरार हो गये हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।