बिहार में पांच नक्सलियों को फांसी की सजा सुनाई गई

मुंगेर की अदालत ने 2014 में सीआरपीएफ के दो जवानों की हत्या करने और दस जवानों को घायल करने के आरोप में आज पांच नक्सलियों को फांसी और 25–25 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई।

मुंगेर। बिहार के मुंगेर जिले की एक अदालत ने वर्ष 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान सीआरपीएफ के दो जवानों की हत्या करने और दस जवानों को घायल करने के आरोप में आज पांच नक्सलियों को फांसी और 25–25 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (प्रथम) ज्योती स्वरूप श्रीवास्तव ने वर्ष 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान सीआरपीएफ के दो जवानों की हत्या करने तथा दस जवानों को घायल करने के आरोप में पांच नक्सलियों विपिन मंडल अधिकलाल पंडित रतु कोडा वानो कोडा और मनु कोडा को फांसी और 25–25 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई।

करीब 50 की संख्या में पहले से घात लगाए नक्सलियों ने लोकसभा चुनाव के दौरान दस अप्रैल 2014 को प्रात: करीब 4–30 बजे खडगपुर थाना अंतर्गत गंगटा–लक्ष्मीपुर सड़क से गुजर रहे सीआरपीएफ के एक गश्ती दल के वाहन को आईईडी विस्फोट से उड़ा दिया। इसके बाद अंधाधुंध गोलीबारी करके हवलदार सुम गौडा और जवान रवीन्द्र राय की हत्या कर दी तथा दस अन्य जवानों को घायल कर दिया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़