उज्जैन स्थित ‘महाकाल लोक’ गलियारे की शुरुआत से पहले ही दिखने लगा लोगों में क्रेज, फ्लाईओवर बना ‘सेल्फी प्वाइंट’

Mahakaal
ANI Image
महाकाल गलियारा पुनर्विकास परियोजना के पहले चरण का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 अक्टूबर को करने वाले है। इस परियोजना के जरिए महाकालेश्वर मंदिर में श्रद्धालुओं को पहुंचने और पवित्र शिवलिंग के दर्शन करने में आसानी होगी। परियोजना के तहत हरि फाटक ओवरब्रिज के रैंप पर कई मनमोहक दृश्य दिखाई देते है।

उज्जैन। उज्जैन निवासी दीपू शर्मा अपने गृह नगर में शीघ्र खुलने वाले महाकाल गलियारे को लेकर बेहद उत्साहित हैं। उनका कहना है कि वह ‘‘शानदार नयी परियोजना’’ की एक झलक पाने और सेल्फी लेने के लिए लगभग हर रात अपने घर के पास स्थित पुराने ओवरब्रिज पहुंचते हैं। शर्मा जैसे ऐसे कई स्थानीय लोग हैं, जो हरि फाटक ओवरब्रिज के रैंप (ढलान) से दिखने वाले मनमोहक दृश्य की सराहना करते हैं। 

यहां से दिखने वाला सजावटी त्रिशूल और भगवान शिव की मुद्रा वाले 108 अलंकृत बलुआ पत्थर के स्तंभों का दृश्य लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करता है। साथ ही भगवान की मूर्तियों और जगमग भित्ति चित्र के पास लगे फव्वारे इसकी सुंदरता को और बढ़ा देते हैं। परियोजना स्थल को दूर से निहारने का यह उत्साह पिछले कुछ हफ्तों में बढ़ा है। पिछले महीने मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल की इस ‘पवित्र शहर’ में हुई पहली बैठक के बाद ‘फ्लाईओवर सेल्फी’ के लिए लोगों की दीवानगी बढ़ गई है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 अक्टूबर को महाकाल गलियारा पुनर्विकास परियोजना के पहले चरण का उद्घाटन करेंगे। इस परियोजना के निर्माण को लेकर शहर के लोग बहुत उत्साहित हैं क्योंकि इससे भगवान शिव के 12 ‘ज्योतिर्लिंग’ में से एक महाकालेश्वर मंदिर में श्रद्धालुओं को पहुंचने और पवित्र शिवलिंग के दर्शन करने में आसानी होगी। हर दिन शाम ढलने के बाद काफी संख्या में लोग ओवरब्रिज के पास एकत्र होकर प्राचीन रुद्रसागर झील को निहारते हैं और गलियारे की पृष्ठभूमि में ‘सेल्फी’ लेते हैं। 

परियोजना स्थल के समीप जयसिंह पुरा क्षेत्र निवासी शर्मा नवरात्रि के दौरान मंगलवार रात को अपनी पत्नी के साथ फ्लाईओवर पर घूमने गए थे, जहां उन्होंने सुंदर नजारों के साथ ‘सेल्फी’ और तस्वीरें लीं। शर्मा ने कहा कि उज्जैन के लोग खासकर मध्य प्रदेश सरकार द्वारा इस बात की पुष्टि के बाद नए गलियारे को लेकर बेहद उत्साहित हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही इसका उद्घाटन करेंगे। जैसे-जैसे वह दिन नजदीक आ रहा है, उत्साह बढ़ता ही जा रहा है।

शर्मा की पत्नी ने कहा कि उनके पड़ोस की महिलाएं और युवा नये गलियारे को लेकर बेहद उत्साहित हैं। राज्य सरकार ने 900 मीटर से अधिक लंबे गलियारे का नाम ‘महाकाल लोक’ रखा है। दो भव्य प्रवेश द्वार - नंदी द्वार और पिनाकी द्वार - गलियारे के शुरुआती स्थान के पास बनाए गए हैं, जो प्राचीन मंदिर के प्रवेश द्वार तक जाते हैं। स्थानीय कैब चालक रोहित सोंगारा ने कहा कि ओवरब्रिज का यह हिस्सा मुख्य प्रवेश द्वार (नंदी द्वार) के सामने पड़ता है और यह लोगों के लिए पसंदीदा ‘सेल्फी प्वाइंट’ बन गया है। यह उत्साह पिछले कुछ हफ्तों में बढ़ा है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़