पहली बार मतदाता बने डेढ़ करोड़ युवाओं ने मतदाता सूचियों में दर्ज करायी मौजूदगी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 11 2019 8:59PM
पहली बार मतदाता बने डेढ़ करोड़ युवाओं ने मतदाता सूचियों में दर्ज करायी मौजूदगी
Image Source: Google

आयोग ने मतदाता सूची में पुरुष और महिला श्रेणी से इतर तीसरी श्रेणी को भी जोड़ते हुये ‘ट्रांसजेंडर’ मतदाताओं को शामिल किया है। इस वर्ग में दर्ज किये गये मतदाताओं की संख्या 38325 है।

नयी दिल्ली। पिछले लोकसभा चुनाव के बाद बीते पांच सालों में चुनाव आयोग की मतदाता सूचियों में 8.4 करोड़ नये मतदाता जुड़े हैं। इनमें मतदाता बनने के लिये 18 साल की न्यूनतम आयु को इस साल प्राप्त करने वाले नये मतदाताओं की संख्या 1.5 करोड़ है। ये मतदाता अगले महीने से शुरु हो रहे आम चुनाव में पहली बार मतदान कर सकेंगे। चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा के चुनाव के लिये रविवार को घोषित चुनाव कार्यक्रम के साथ जारी आंकड़ों के अनुसार देश में पंजीकृत मतदाताओं की संख्या 90 करोड़ हो गयी है। लोकसभा के 2014 में हुये चुनाव में मतदाताओं की संख्या 81.6 करोड़ थी। 

 
आयोग ने मतदाता सूची में पुरुष और महिला श्रेणी से इतर तीसरी श्रेणी को भी जोड़ते हुये ‘ट्रांसजेंडर’ मतदाताओं को शामिल किया है। इस वर्ग में दर्ज किये गये मतदाताओं की संख्या 38325 है। आयोग ने लोकसभा की 543 सीटों पर चुनाव कराने के लिये देश में 10.35 लाख मतदान केन्द्र बनाये थे। पिछले चुनाव में यह संख्या 9.28 लाख थी। मतदान के लिये चुनाव में लगभग 39.6 लाख ईवीएम और 17.4 लाख वीवीपीएटी मशीनें इस्तेमाल की जायेंगी।
 


 
फोटोयुक्त मतदाता पहचान पत्र के मामले में आयोग ने 23 राज्यों में शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल कर लिया है। इन राज्यों में सभी पंजीकृत मतदाताओं को फोटोयुक्त मतदाता पहचान पत्र जारी किया जा चुका है। इसके अलावा दृष्टिबाधित मतदताओं को ब्रेल लिपि वाले मतदाता पहचान पत्र जारी किये गये हैं। आयोग द्वारा जारी चुनाव कार्यक्रम के अनुसार 11 अप्रैल से 19 मई तक सात चरण में लोकसभा चुनाव संपन्न होगा। मतगणना 23 मई को होगी।
 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story