राहुल भट की हत्या की जांच के लिए एक SIT का गठन, पत्नी को मिलेगी सरकारी नौकरी, बेटी की पढ़ाई का खर्च उठाएगी सरकार

राहुल भट की हत्या की जांच के लिए एक SIT का गठन, पत्नी को मिलेगी सरकारी नौकरी, बेटी की पढ़ाई का खर्च उठाएगी सरकार
ANI

सरकार ने भी राहुल भट्ट के परिजनों के लिए बड़ी राहत की घोषणा की है। जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के कार्यालय के मुताबिक राहुल भट की पत्नी को सरकारी नौकरी और परिवार को वित्तीय सहायता दी जाएगी। जबकि उनकी बेटी की पढ़ाई का पूरा खर्च सरकार उठाएगी।

जम्मू कश्मीर में कश्मीरी पंडित राहुल भट की हत्या का मामला अब गर्म होता दिखाई दे रहा है। दरअसल, बडगाम जिले के चडूरा तहसील में राजस्व अधिकारी के रूप में कार्यरत राहुल भट की आतंकियों ने गुरुवार को दफ्तर में घुसकर गोली मार दी थी। राहुल भट की हत्या के बाद जम्मू कश्मीर में जगह-जगह कश्मीरी पंडितों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इन सबके बीच राहुल भट की हत्या की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया गया है। दूसरी ओर सरकार ने भी राहुल भट्ट के परिजनों के लिए बड़ी राहत की घोषणा की है। जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के कार्यालय के मुताबिक राहुल भट की पत्नी को सरकारी नौकरी और परिवार को वित्तीय सहायता दी जाएगी। जबकि उनकी बेटी की पढ़ाई का पूरा खर्च सरकार उठाएगी।

इसे भी पढ़ें: सेना ने 2 दिन का किया वादा, 24 घंटे के अंदर ही किया पूरा, कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या में शामिल 3 आतंकी ढेर

उपराज्यपाल कार्यालय के मुताबिक जम्मू-कश्मीर प्रशासन जम्मू में राहुल भट की पत्नी को सरकारी नौकरी और परिवार को वित्तीय सहायता प्रदान करेगा। बेटी की पढ़ाई का खर्च सरकार उठाएगी। इसी में कहा गया है कि घिनौने आतंकी हमले के सभी पहलुओं की जांच के लिए विशेष जांच दल गठित करने का निर्णय लिया गया है। संबंधित थाने के एसएचओ को भी अटैच किया गया है। इससे पहले जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा शुक्रवार को कश्मीरी पंडित समुदाय के सरकारी कर्मचारी राहुल भट के परिजनों से मिले और उन्हें इंसाफ दिलाने का भरोसा दिलाया। सिन्हा ने कहा कि आतंकवादियों और उनके समर्थकों को इस जघन्य कृत्य के लिए बहुत भारी कीमत चुकानी होगी।

इसे भी पढ़ें: 'कुत्ते-बिल्लियों की मौत नहीं मरना चाहते, हमें बंदूकें दे दो, अपनी रक्षा खुद कर लेंगे'- राहुल भट्ट की हत्या के बाद सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे कश्मीरी पंडित

दूसरी ओर कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या के बाद सुरक्षाबलों की तरफ से उनकी पत्नी मीनाक्षी से दो दिन के अंदर आतंकियों को मारने का दावा किया था। लेकिन इसे 24 घंटे के भीतर ही पूरा करके दिखा दिया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बांदीपोरा में शाम को सुरक्षाबलों की तरफ से तीन आतंकियों को मार गिराया गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इनमें से दो आतंकी राहुल भट्ट की हत्या में शामिल थे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।