दिल्ली में बच्चों को बेचने वाले गिरोह का खुलासा, 6 गिरफ्तार; पुलिस ने खोली पोल

delhi police
दिल्ली के रोहिणी में बच्चों को बेचने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया गया है।पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान रोहिणी के बलजीत विहार निवासी इकरत (30) और मोहम्मद सद्दान (50), कंझावला निवासी रेणु (28) तथा गाजियाबाद की मोनी बेगम (30), रेखा (46) और योगेश (36) के रूप में हुई है।

नयी दिल्ली। दिल्ली के रोहिणी इलाके में नवजात शिशुओं की तस्करी में शामिल एक गिरोह का भंडाफोड़ कर चार महिलाओं समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान रोहिणी के बलजीत विहार निवासी इकरत (30) और मोहम्मद सद्दान (50), कंझावला निवासी रेणु (28) तथा गाजियाबाद की मोनी बेगम (30), रेखा (46) और योगेश (36) के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि शुक्रवार को अपराह्न तीन बजकर 36 मिनट पर पांच दिन के एक बच्चे के लापता होने की सूचना मिली थी।

इसे भी पढ़ें: तकनीकी गड़बड़ी से जोमैटो, स्विगी के ग्राहक हुए परेशान, सोशल मीडिया पर लगा शिकायतों का अंबार

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि शिशु की मां उम्मत परवीन ने पुलिस को बताया कि सुबह करीब 11 बजे वह अपने बच्चे के साथ सो रही थी, लेकिन जब वह दोपहर करीब साढ़े बारह बजे उठी तो उसने पाया कि बच्चा वहां नहीं है। जांच के दौरान, पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की जांच की और बच्चे को ले जा रही एक महिला को देखा। पुलिस को इस मामले में महिला का पीछा कर रही परवीन की भतीजी इकरत पर शक हुआ। उसकी संदिग्ध हरकत देखकर पुलिस ने इकरत से पूछताछ की, जिसके दौरान उसने अपहरण में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली। बच्चे को लेकर भाग रही महिला की पहचान रेणु के रूप में की गयी है। इसके बाद पुलिस ने गिरोह के अन्य सदस्यों को भी पकड़ लिया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़