लोकतंत्र की दुहाई देने वाले गहलोत ने मेरे अधिकारों का किया हनन, भाजपा सांसद ने पुलिस कार्रवाई को लेकर साधा निशाना

लोकतंत्र की दुहाई देने वाले गहलोत ने मेरे अधिकारों का किया हनन, भाजपा सांसद ने पुलिस कार्रवाई को लेकर साधा निशाना
प्रतिरूप फोटो
ANI Image

भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि मुख्यमंत्री माननीय अशोक गहलोत अपने हर बयान में लोकतंत्र और संविधान की दुहाई देते हैं। उन्होंने मेरे अधिकारों का हनन किया है और मुझे उदयपुर में पत्रकार वार्ता नहीं करने दिया। उन्होंने कहा कि जानकारी में है कि उदयपुर संभाग में लोग भूख से मर रहे हैं।

जयपुर। भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने शुक्रवार को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि गहलोत अपने हर बयान में लोकतंत्र और संविधान की दुहाई देते हैं। उन्होंने मेरे अधिकारों का हनन किया है। दरअसल, कांग्रेस चिंतन शिविर शुरू होने से एक दिन पहले किरोड़ी लाल मीणा के उदयपुर पहुंचने पर सियासी ड्रामा खड़ा हो गया। हुआ यूं कि पुलिस किरोड़ी लाल मीणा को एक होटल से जबरन निकालकर अजमेर ले गई। जिसको भाजपा सांसद गहलोत सरकार पर हमलवार हैं। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा पर हमला करते हुए गहलोत, कभी नहीं होगा कांग्रेस मुक्त भारत, ऐसी बात करने वालों से... 

गहलोत ने मेरे अधिकारों का किया हनन

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि मुख्यमंत्री माननीय अशोक गहलोत अपने हर बयान में लोकतंत्र और संविधान की दुहाई देते हैं। उन्होंने मेरे अधिकारों का हनन किया है और मुझे उदयपुर में पत्रकार वार्ता नहीं करने दिया। उन्होंने कहा कि जानकारी में है कि उदयपुर संभाग में लोग भूख से मर रहे हैं। रसद सामग्री उनके दरवाजे तक नहीं पहुंच रही है। अल्प आयु की बच्चियों का बड़े पैमाने पर खरीद फरोख्त का धंधा चल रहा है। उनको गुजरात ले जाकर बेचा जाता है। वहां धर्मांतरण भी बड़े पैमाने पर हो रहा है।

भाजपा सांसद गुरुवार को पुलिस द्वारा की गई जबरन कार्रवाई से खासा नाराज दिखाई दे रहे हैं। उन्होंने कहा था कि पुलिस गहलोत के निर्देश पर मेरे साथ ऐसा कर रही है। उन्होंने कहा था कि पुलिसवाले मुझ पर (उदयपुर) छोड़ने के लिए दबाव बना रहे हैं। अधिकारियों का कहना है कि उनके पास अपने उच्च अधिकारियों से आदेश है, लेकिन मुझे आदेश नहीं दिखा सके। 

इसे भी पढ़ें: सचिन पायलट ने कांग्रेस चिंतन शिविर से पहले दिया बड़ा बयान, संप्रग को लेकर कही ये बात 

उल्लेखनीय है कि उदयपुर में कांग्रेस का तीन दिवसीय चिंतन शिविर शुरू चल रहा है। पुलिस द्वारा किरोड़ी लाल मीणा को उदयपुर से जयपुर की तरफ ले जाया गया था। वह ब्यावर (अजमेर) में रुके जहां उन्होंने एक वीडियो बयान जारी कर कहा था कि वह कल पुष्कर (अजमेर) में शंकराचार्य के एक साधना शिविर में शामिल होंगे और अगर पुलिस ने उन्हें अनुमति नहीं दी तो वह धरना देंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।