BHU के छात्रों द्वारा 75 मीटर लंबे कैनवास पर पेंट किया जाएगा स्वर्णिम भारत का अतीत और आधुनिक काल

BHU के छात्रों द्वारा 75 मीटर लंबे कैनवास पर पेंट किया जाएगा स्वर्णिम भारत का अतीत और आधुनिक काल

बीएचयू के छात्रों द्वारा 75 मीटर लंबे कैनवास पर पेंट किया जाएगा। पेंटिंग बनाने के दूसरे दिन युवा कलाकारों ने पेंटिंग ले- आउट को मूर्त रूप प्रदान कर पेंटिंग बनाना आरंभ किया। जिसका उद्दघाटन कुलसचिव डॉ. नीरज त्रिपाठी ने किया।

वाराणसी।भारतीय स्वतंत्रता के गौरवशाली 75 वर्ष होने के अवसर पर आयोजित हुई अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत काशी हिंदू विश्वविद्यालय राष्ट्रीय सेवा योजना के दृश्य कला संकाय विभाग के स्वयंसेवकों के द्वारा "आजादी के 75 वर्ष भारत के बढ़ते कदम" विषय पर  75 मीटर लंबे कैनवास पर पेंटिंग बनाई जा रही है। पेंटिंग बनाने के दूसरे दिन युवा कलाकारों ने पेंटिंग ले- आउट को मूर्त रूप प्रदान कर पेंटिंग बनाना आरंभ किया। जिसका उद्दघाटन कुलसचिव डॉ. नीरज त्रिपाठी ने किया।

इसे भी पढ़ें: बदलते काशी की बदलती तस्वीर, PM मोदी विश्वनाथ कॉरिडोर के प्रथम चरण का करेंगे लोकार्पण

आपको बता दे, कि इस 75 मीटर लंबे  पेंटिंग को पांच अलग-अलग भागों में बांटा गया है। जिसमे स्वतंत्र भारत के विविध विषयों पर चित्र दिखाई देंगे।  इसके पहले भाग में स्वर्णिम भारत का अतीत काल चित्रित किया जाएगा, दूसरे भाग में विदेशी आक्रांताओं का आगमन, तीसरे भाग में स्वतंत्रता आंदोलन के विविध आयामों को दर्शाया जाएगा, वहीं चौथे भाग में स्वतंत्रता के पश्चात भारत में हुए विकास के कार्यक्रम को चित्रित किया जाएगा और पाँचवे भाग में वर्तमान भारत के बढ़ते कदम, भारत राष्ट्र में चल रहे विकासात्मक कार्यक्रम आदि को  कला के माध्यम से चित्रित किया जा रहा है ।

 

बीएचयू के दृश्य कला संकाय पर आयोजित कार्यक्रम में कुलसचिव नीरज त्रिपाठी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि, आजादी के अमृत महोत्सव के तहत छात्रों का यह आयोजन बहुत प्रेरणादायी है।भारत सरकार युवा कार्यक्रम खेल मंत्रालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम सलाहकार डॉ. कमल कुमार कर ने भी युवाओं का इस कार्य मे उत्साह बढ़ाया और उन्हें इस अद्भुत कार्य को करने के लिए शुभकामनाएं दी।इसके साथ ही समारोह की अध्यक्षता दृश्य कला संकाय प्रमुख प्रो. हीरालाल प्रजापति ने किया।

इसे भी पढ़ें: योगी सरकार की बड़ी पहल, काशी विश्वनाथ मंदिर में होगी कैबिनेट की अगली बैठक

इस दौरान समारोह में अक्षत मिश्रा, पिंकू कुमार राहुल कुमार राजभर, हर्ष मिश्रा, राजनंदिनी, आराधना समेत अन्य लोग शामिल रहे।बीएचयू में राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम समन्वयक डा. बाला लखेंद्र ने बातचीत में कहा की, इस पेंटिंग को तैयार होने में लगभग 25 दिन लगेंगे। 25 दिनों के अंदर यह काम पूरा कर लिया जाएगा और इसे राष्ट्रीय युवा दिवस पर, यानी 12 जनवरी को राष्ट्र को अर्पित किया जाएगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...