गूगल ने देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर ‘इंडिया की उड़ान’ परियोजना शुरू की

Google
Prabhasakshi
भारत की आजादी के 75 साल के सफर में हासिल की गई अहम उपलब्धियों को समेटते हुए गूगल ने एक ऑनलाइन परियोजना शुरू की है, जिसमें समृद्ध अभिलेखागार और कलात्मक चित्रण के जरिये देश की कहानी बयां की गई है।

नयी दिल्ली। भारत की आजादी के 75 साल के सफर में हासिल की गई अहम उपलब्धियों को समेटते हुए गूगल ने एक ऑनलाइन परियोजना शुरू की है, जिसमें समृद्ध अभिलेखागार और कलात्मक चित्रण के जरिये देश की कहानी बयां की गई है। ‘गूगल आर्ट्स एंड कल्चर’ द्वारा शुरू की गई परियोजना ‘इंडिया की उड़ान’ देश की उपलब्धियों का जश्न मनाती है और यह ‘इन 75 वर्षों में भारत की अटूट और अमर भावना पर आधारित है।’ केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी और संस्कृति मंत्रालय तथा गूगल के वरिष्ठ अधिकारियों ने शुक्रवार को दिल्ली स्थित सुंदर नर्सरी में आयोजित एक समारोह में इसका आधिकारिक रूप से शुभारंभ किया।

इसे भी पढ़ें: अमेरिकी सीनेट ने भारतीय-अमेरिकी वकील रूपाली देसाई की न्यायाधीश पद पर नियुक्ति की पुष्टि की

देशभर में आजादी की 75वीं वर्षगांठ के जश्न के तौर पर गूगल ने सरकार के एक साल तक चलने वाले ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ कार्यक्रम का समर्थन करने के लिए ‘सूचनात्मक ऑनलाइन सामग्री तक पहुंच बढ़ाने और 1947 के बाद से भारत की प्रगति और भारतीयों के योगदान को दिखाने के वास्ते’ संस्कृति मंत्रालय के साथ सहयोग किया है। कंपनी ने 2022 के लिए अपनी लोकप्रिय ‘डूडल4गूगल’ प्रतियोगिता की भी घोषणा की, जिसकी थीम ‘अगले 25 वर्षों में मेरा भारत होगा...’ है।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका : व्हाइट हाउस के पास बिजली गिरने से तीन लोगों की मौत, एक व्यक्ति घायल

इसमें पहली से 10वीं कक्षा तक के छात्र हिस्सा ले सकते हैं। रेड्डी ने कहा कि गूगल केंद्र द्वारा संरक्षित 3,000 से अधिक स्मारकों की सीमाओं का डिजीटल मानचित्र तैयार करने में संस्कृति मंत्रालय की मदद कर सकता है, जिससे इन स्थलों की बेहतर निगरानी में मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि नया दुर्लभ अभिलेखागार सामग्री के डिजीटलीकरण में भी कारगर साबित हो सकता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़