प्रधानमंत्री मोदी का गोरखपुर दौरा, तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 7, 2021   08:39
प्रधानमंत्री मोदी का गोरखपुर दौरा, तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार शाम गोरखपुर पहुंच कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे की तैयारियों का जायजा लिया। प्रधानमंत्री खाद कारखाना, एम्स आदि योजनाओं की सौगात लेकर मंगलवार दोपहर गोरखपुर आ रहे हैं। योगी उन्हीं की अगवानी के लिए आए हैं।

गोरखपुर (उत्तर प्रदेश)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार शाम गोरखपुर पहुंच कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे की तैयारियों का जायजा लिया। प्रधानमंत्री खाद कारखाना, एम्स आदि योजनाओं की सौगात लेकर मंगलवार दोपहर गोरखपुर आ रहे हैं। योगी उन्हीं की अगवानी के लिए आए हैं। आज शाम यहां आए मुख्यमंत्री ने खाद कारखाना परिसर में प्रधानमंत्री के कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा के साथ ही आमजन की सुरक्षा और सुविधा में किसी भी तरह की कोताही नहीं होनी चाहिए।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी कल सात दिसंबर को गोरखपुर एम्स, फर्टिलाइजर कारखाने और आईसीएमआर के जांच केंद्र का उद्घाटन करने वाले हैं। गोरखपुर में दशकों से बंद पड़े फर्टिलाइजर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया के उर्वरक कारखाने को फिर से शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2016 में इसका शिलान्यास किया था। हिंदुस्तान उर्वरक के नाम से करीब 600 एकड़ क्षेत्रफल में बने इस कारखाने को प्रधानमंत्री कल राष्ट्र को समर्पित करेंगे। इसमें 12 लाख मीट्रिक टन से अधिक यूरिया का उत्पादन किया जाएगा। प्रधानमंत्री कल ही 112 एकड़ क्षेत्र में एम्स का भी उद्घाटन करेंगे। 2016 में उन्होंने इसका शिलान्यास किया था, यह एम्स कभी बाढ़ और बीमारी के लिए पहचाने जाने वाले पूर्वी उत्तर प्रदेश में चिकित्सा की नई रोशनी पैदा करेगा।

‘नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलॉजी’ पुणे की तर्ज पर आईसीएमआर का एक क्षेत्रीय केन्द्र भी गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बनकर तैयार हो चुका है। प्रधानमंत्री मोदी मंगलवार को इसका भी उद्घाटन करेंगे। इस केंद्र का शिलान्यास 2018 में हुआ था। यह न सिर्फ इंसेफलाइटिस, कालाजार, चिकनगुनिया और डेंगू बल्कि कोविड-19 जैसी महामारी से जुड़े वायरस की भी पहचान करने के साथ-साथ उनके उपचार के लिए अनुसंधान को आगे बढ़ाने इत्यादि का काम भी करेगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।