प्रधानमंत्री की रैली को ऐतिहासिक व अनुशासित बनाने की अपील

प्रधानमंत्री की रैली को ऐतिहासिक व अनुशासित बनाने की अपील
प्रतिरूप फोटो

क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ धर्मेंद्र सिंह ने गोरखपुर में एम्स और फर्टिलाइजर के लोकार्पण के अवसर पर होने वाली इस रैली को प्रदेश की सबसे बड़ी और अनुशासित रैली बनाने का आह्वान किया।

गोरखपुर। आगामी 7 दिसंबर को फर्टिलाइजर परिसर में होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली को लेकर भाजपा की जिला और महानगर के पदाधिकारियों की बैठक बेनीगंज स्थित क्षेत्रीय कार्यालय पर हुई। इस बैठक को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ धर्मेंद्र सिंह ने गोरखपुर में एम्स और फर्टिलाइजर के लोकार्पण के अवसर पर होने वाली इस रैली को प्रदेश की सबसे बड़ी और अनुशासित रैली बनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि 2014 की लोकसभा चुनाव के पहले गोरखपुर के मानबेला में नरेंद्र मोदी की ऐतिहासिक रैली हुई थी।

 

इसे भी पढ़ें: रद्द हुए तीनों कृषि कानून, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लगाई मुहर

 

यह रैली पूरे देश में अच्छा संदेश देने में सफल रही। तब भाजपा की न तो केंद्र में या न राज्य में सरकार थी। वर्तमान में भाजपा की केंद्र और राज्य में सरकार है। श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण और जम्मू कश्मीर से 370 की समाप्ति समेत उपलब्धियों की भरमार है। दुनिया की भारत को लेकर नजरिया बदला है। देश का परिदृश्य भी बदला है। कभी इस प्रदेश में केवल कब्रिस्तान की बाउंड्री बनाने का कार्य हो रहा था। आज प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार पौने ग्यारह सौ मंदिरों का पुनर्निर्माण करा चुकी है। ऐसे में फर्टिलाइजर में होने वाली प्रधानमंत्री की रैली मानबेला की रैली से बड़ी, ऐतिहासिक और अनुशासित होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बीते ढाई  दशक से फर्टिलाइजर का परिसर उजाड़ हो गया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन के साथ ही फर्टिलाइजर परिसर गुलजार हो जायेगा। क्षेत्रीय अध्यक्ष ने रैली को लेकर सुरक्षा, पेयजल, यातायात, पार्किंग व्यवस्था बेहतर बनाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि इस रैली में गोरखपुर बस्ती मंडल के हर गांव का प्रतिनिधित्व होना चाहिए। घर घर सघन संपर्क भी जरूरी है। यहां पर गोरखपुर महानगर व जिला के पदाधिकारियों में जिम्मेदारी भी बांटी गई। संचालन महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता ने किया। आभार ज्ञापन जिला अध्यक्ष युधिष्ठिर सिंह ने किया।

 

इसे भी पढ़ें: सरकार के पास मृतक किसानों के आंकड़े नहीं होने पर भड़की कांग्रेस, पूछा- कोरोना में मृत लोगों का आंकड़ा कहां से लिया ?

 

बैठक में प्रमुख रूप से गोरखपुर जिला प्रभारी अजय सिंह गौतम, क्षेत्रीय महामंत्री सहजानंद राय, डॉ बच्चा पांडेय नवीन , बृजेश मणि मिश्र, आनंद अग्रहरि, पदमा गुप्ता, श्वेता श्रीवास्तव सहित अन्य पदाधिकारी गण उपस्थित रहे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...