अनुदेशकों के नियमितीकरण के लिए गोरखपुर में हुआ अनुदेशक महासम्मेलन

TEACHERS
प्रतिरूप फोटो
प्रणव तिवारी । Aug 30, 2021 1:34PM
देवेंद्र पांडेय ने कहा कि अपनी ही सरकार में सवाल उठाने वाले पूरे प्रदेश में इकलौते विधायक राधामोहन दास अग्रवाल हैं। इस तरह का साहस कोई अन्य विधायक नहीं कर सकता।

गोरखपुर। रविवार को अतिथि गृह गोरखपुर में अनुदेशकों का महासम्मेलन किया गया। अनुदेशकों का मुद्दा विधान सभा में नगर विधायक डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल ने अपने ही सरकार में उठाया था। इसको देखते हुए अनुदेशकों में एक उम्मीद जग गई और  विधायक  को सम्मान व धन्यवाद देने के लिए कार्यक्रम रखा गया।

इसे भी पढ़ें: साहित्यिक एवं सामाजिक कार्य में उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किए गए मिन्नत गोरखपुरी

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि बी.पी.एड. संघर्ष मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष  देवेन्द्र पाण्डेय रहे। अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा कि आज राष्ट्रीय खेल दिवस के दिन हम सब के अगुवा व मार्गदर्शक  विधायक राधामोहन दास अग्रवाल से हम लोग उम्मीद करते हैं कि आने वाले समय में इसी तरह हमारी लड़ाई को अपनी आवाज देते रहेंगे। देवेंद्र पांडेय ने कहा कि अपनी ही सरकार में सवाल उठाने वाले पूरे प्रदेश में इकलौते विधायक आप हैं। इस तरह का साहस कोई अन्य विधायक नहीं कर सकता।

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आयुष विश्वविद्यालय का किया शिलान्यास

 पूरे प्रदेश से लगभग हजारों की संख्या में अनुदेशक शिक्षक और शिक्षिकायें बड़ी आश लगाकर इस कार्यक्रम में शामिल हुए, और यह संकल्प लिया कि आगे के कार्यक्रम में हमारी संख्या और बढ़ेगी और अपना अनुदेशक के पद पर विनयमितीकरण कराकर रहेंगे। कार्यक्रम के आयोजक प्रदेश अध्यक्ष विक्रम सिंह अपने सम्बोधन के दौरान भावुक होकर अपनी  पीड़ा बताते हुये कहा कि  इतने वर्ष हो गये लेकिन आज भी हम लोग 7000 रुपये की दंश झेल रहे हैं। और मांग करने पर लाठी व मुकदमे लादे जा रहे हैं। आखिर हम अनुदेशकों का दोष क्या है ? -

कार्यक्रम में प्रदेश पदाधिकारी अभिषेक गुप्ता, माहेश्वरी पाठक, अभिषेक त्रिपाठी, संदीप यादव, कुसुमेन्द्र सिंह 'राणा', पवन भिति, प्रदीप कुमार सिंह, आशीष सिंह व गोरखपुर जिलाध्यक्ष रणंजय सिंह उपस्थित रहे। कार्यक्रम संचालन देवरिया के सत्यप्रकाश शर्मा ने किया।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़