मजदूरों का हर हाल में भला कर रही मोदी-योगी सरकार: राजेश त्रिपाठी

RAJESH TRIPATHI
प्रतिरूप फोटो
प्रणव तिवारी । Jun 27, 2021 1:16PM
बड़हलगंज ब्लाक अंतर्गत खड़ेसरी गांव में शहीद राजा हरिप्रसाद मल्ल राजकीय होमियोपैथिक मेडिकल कालेज को सुरक्षित रखने वाले रिंग बांध का मनरेगा के तहत सुदृढ़ीकरण और उच्चीकरण योजना का शुभारंभ किया गया।

गोरखपुर। बड़हलगंज गोरखपुर केन्द्र की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार गरीबों और मजदूरों का हर हाल में भला चाहती है। इसलिए दीवाली तक हर गरीब को फ्री राशन मिल रहा है और मनरेगा के तहत प्रत्येक गांव के मजदूरों को काम दिया जा रहा है। उक्त बातें पूर्व मंत्री राजेश त्रिपाठी ने कहीं हैं। वे बड़हलगंज ब्लाक अंतर्गत खड़ेसरी गांव में शहीद राजा हरिप्रसाद मल्ल राजकीय होमियोपैथिक मेडिकल कालेज को सुरक्षित रखने वाले रिंग बांध का मनरेगा के तहत सुदृढ़ीकरण और उच्चीकरण योजना का शुभारंभ करने के बाद संबोधित कर रहे थे। राजेश त्रिपाठी ने कहा कि गरीबों और मजदूरों के बेटियों के विवाह का खर्च योगी सरकार उठा रही है। रजिस्टर्ड मजदूरों के लिए चिकित्सा, शिक्षा, आवास, पेंशन की  व्यवस्था  कर रही है। मुख्यमंत्री द्वारा गोरखपुर के दक्षिणांचल में कोविड हास्पिटल खुलवाने का सर्वाधिक लाभ गरीबों और मजदूरों को ही मिलेगा।

इसे भी पढ़ें: राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने भाजपा कार्यसमिति की बैठक को संबोधित किया

वहीं आगे उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत लगभग 40 लाख रूपए रुपए की लागत से बन रहे इस बंधे से किसानों का भी काफी लाभ होगा। योगी सरकार द्वारा 20 से 24 घंटा बिजली दिये जाने से झोपड़ी और हवेली वालों को भी राहत है। चिल्लूपार सहित पूरे प्रदेश में बेघर गरीबों-मजदूरों को आवास और विद्युत कनेक्शन दिया जा रहा है। खंड विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह, तकनीकी सहायक जयराम तिवारी, क्षेत्रीय संयोजक एनजीओ महेश उमर, कृष्ण कुमार गोंड़, मंडल अध्यक्ष अखंड शाही, सुनील सिंह, ग्राम प्रधान  प्रतिनिधि ललकू यादव, प्रशांत शाही, विनय तिवारी, अष्टभुजा सिंह, आचार्य वेदप्रकाश त्रिपाठी,  विनय पांडेय, राजीव पांडेय, डबलू सोनकर, सुरेश मिश्र, संजय दुबे मौजूद रहे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़