राज्यपाल कलराज मिश्र और मुख्यमंत्री गहलोत ने कृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनाएं दीं

Ashok G
प्रतिरूप फोटो
ANI
राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी (19 अगस्त) पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। गहलोत ने कहा कि श्रीकृष्ण का जीवन प्रेरणास्रोत है और उनका जीवन सकारात्मक रहने और कर्म करते रहने की सीख देता है।

जयपुर, 19 अगस्त।  राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी (19 अगस्त) पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि भगवान कृष्ण ने कर्म प्रधान विश्व का जो संदेश दिया, उसी में जीवन का सार है। उन्होंने कहा कि जन्माष्टमी के पर्व पर हम सभी को श्रीमद्भगवद् गीता के अनुसार बिना विचलित हुए अपने कर्तव्य पथ पर चलने का संकल्प लेना चाहिए। गहलोत ने कहा कि श्रीकृष्ण का जीवन प्रेरणास्रोत है और उनका जीवन सकारात्मक रहने और कर्म करते रहने की सीख देता है।

उन्होंने कहा कि श्रीकृष्ण ने जिस तरह महाभारत के युद्ध में सत्य का साथ दिया, उसी तरह हमें अपने जीवन में आगे बढ़ने के लिए सदैव सत्य के रास्ते पर चलना चाहिए। उन्होंने युवाओं से आह्वान किया कि श्रीकृष्ण के जीवन से प्रेरणा लें और रिश्तों को हर स्तर पर मर्यादा पूर्वक निभाएं। उन्होंने युवाओं से कहा कि अपनी क्षमताओं का उपयोग कर प्रदेश की उन्नति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं, अन्याय का प्रतिकार करें और जरूरतमंद लोगों की निस्वार्थ सेवा करें। राजस्थान के प्रमुख मंदिरों जैसे जयपुर के गोविंद देव जी मंदिर, नाथद्वारा के श्रीनाथजी मंदिर, चित्तौड़गढ़ के सांवलिया सेठ मंदिर में जन्माष्टमी को लेकर तैयारियां शुरू हो चुकी हैं।

जन्माष्टमी के पर्व पर सभी मंदिरों को सजाया गया है। जयपुर के आराध्य देव गोविंद देवजी मंदिर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर रात 12 बजे ठाकुर जी का जन्माभिषेक होगा। नाथद्वारा के श्रीनाथजी मंदिर के मुख्य निष्पादन अधिकारी जितेन्द्र ओझा ने बताया कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पर्व पर शाम छह बजे भव्य शोभायात्रा निकाली जायेगी और रात्रि 12:00 बजे रिसाला चौक में 21 तोपों की सलामी दी जाएगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़