• कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सैकड़ों परियोजनाओं को समर्थन दे रही है सरकार: हर्षवर्धन

स्वदेशी टीकों के विकास, परंपरागत ज्ञान पर आधारित अभिनव निदान और उपचार तरीकों से लेकर अनुसंधान तथा सेवाएं देने तक भारतीय निजी और सरकारी अनुसंधान और विकास (आरएंडडी) संस्थाएं महामारी से लड़ने के प्रभावी तरीके इजाद करने के लिए अथक प्रयास कर रही हैं।

नयी दिल्ली। विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्धन ने सोमवार को कहा कि सरकार कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में सैकड़ों परियोजनाओं को समर्थन दे रही है और 100 से अधिक स्टार्ट-अप ने कोविड-19 से निपटने के लिए अभिनव उत्पाद विकसित किये हैं। विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग तथा भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) द्वारा आयोजित भारत-पुर्तगाल टेक समिट को संबोधित करते हुए हर्षवर्धन ने कहा कि सरकार ने कोविड-19 टीका अनुसंधान के लिए 12 करोड़ डॉलर के अनुदान की घोषणा की है।

उन्होंने कहा कि कोविड सुरक्षा मिशन के लिए ऐसा किया जा रहा है और इसका मकसद पूरी तरह इस क्षेत्र में अनुसंधान और विकास करना है। मंत्री ने कहा, ‘‘स्वदेशी टीकों के विकास, परंपरागत ज्ञान पर आधारित अभिनव निदान और उपचार तरीकों से लेकर अनुसंधान तथा सेवाएं देने तक भारतीय निजी और सरकारी अनुसंधान और विकास (आरएंडडी) संस्थाएं महामारी से लड़ने के प्रभावी तरीके इजाद करने के लिए अथक प्रयास कर रही हैं।’’ हर्षवर्धन ने कहा, ‘‘सैकड़ों परियोजनाओं का समर्थन किया जा रहा है। 100 से अधिक स्टार्ट-अप ने कोविड-19 के लिए अभिनव उत्पाद विकसित किये हैं।