महापंचायत में बोले जयंत चौधरी, किसान प्रदर्शन को दबाने के लिए 'फूट डालो और राज करो' की नीति अपना रही सरकार

Jayant Chaudhary
राष्ट्रीय लोक दल के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा कि इस विरोध प्रदर्शन को पहले ‘‘खालिस्तानी आंदोलन’’ कहा गया और इसे बाद में ‘‘जाट आंदोलन’’ कहा गया, जबकि यह सभी किसानों की लड़ाई है। यह क्षेत्र में किसानों की इस प्रकार की 11वीं महापंचायत है।

मथुरा। राष्ट्रीय लोक दल के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने बृहस्पतिवार को कहा कि केंद्र सरकार नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन को दबाने के लिए‘‘फूट डालो और राज करो’’ की नीति अपना रही है। चौधरी ने यहां एक ‘महापंचायत’ में कहा कि इस विरोध प्रदर्शन को पहले ‘‘खालिस्तानी आंदोलन’’ कहा गया और इसे बाद में ‘‘जाट आंदोलन’’ कहा गया, जबकि यह सभी किसानों की लड़ाई है। यह क्षेत्र में किसानों की इस प्रकार की 11वीं महापंचायत है। 

इसे भी पढ़ें: महापंचायत में केंद्र पर बरसे जयंत चौधरी, बोले- कानूनों की अच्छाइयों के बारे में किसानों को अभी तक नहीं बताया गया 

उन्होंने कहा कि वे फूट डालो एवं राज्य करो की नीति का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिसका इस्तेमाल ब्रिटेन ने भारत के स्वतंत्रता आंदोलन को दबाने के लिए किया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़