• गुजरात : जूनागढ़ के प्राथमिक स्कूल के तीन बच्चे कोरोना वायरस से संक्रमित

गुजरात के जूनागढ़ जिले में एक सरकारी प्राथमिक विद्यालय के तीन छात्र कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए, जिसके बाद एक सप्ताह के लिए स्कूल बंद कर दिया गया। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

जूनागढ़। गुजरात के जूनागढ़ जिले में एक सरकारी प्राथमिक विद्यालय के तीन छात्र कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए, जिसके बाद एक सप्ताह के लिए स्कूल बंद कर दिया गया। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। जूनागढ़ जिला पंचायत शिक्षा समिति की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया कि कक्षा छह और सात के बच्चों में सोमवार को संक्रमण की पुष्टि हुई और उन्हें उनके घरों में पृथक-वास में रखा गया है। इसके बाद जिले के केशोद तालुका के मेसवान गांव के प्राथमिक स्कूल के लगभग 300 अन्य बच्चों की भी जांच शुरू की गई है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर साधारण परिवार से जनता का दर्द समझते है,इन उपचुनावों में अर्की में खिलेगा कमल जीतेगी भाजपा : कश्यप

विज्ञप्ति में कहा गया कि तीन बच्चों के संक्रमित पाए जाने के बाद स्कूल का संचालन करने वाली समिति ने राज्य शिक्षा विभाग के स्थानीय अधिकारियों को सूचित किया कि 11 अक्टूबर से 16 अक्टूबर तक शैक्षणिक संस्थान बंद रहेगा। स्कूल में पहली से सातवीं कक्षा तक की पढ़ाई होती है। समिति ने संक्रमित बच्चों के संपर्क में आने वाले अन्य बच्चों के माता- पिता से भी जांच करवाने का आग्रह किया है। इस बीच, ग्राम सरपंच रमेश लडाणी ने कहा कि संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए मेसवान में चल रहे नवरात्र के उत्सव को सोमवार से बंद कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें: कारगिल पर प्रतिभा सिंह के बयान से दुख पहुंचा , प्रतिभा सिंह को मजबूरी में नहीं लड़ना चाहिए चुनाव: जयराम

लडाणी ने संवाददाताओं से कहा, “हमने खेत में काम करने वाले मजदूरों की कोविड-19 जांच कराने के लिए अधिकारियों से आग्रह किया है। वे राज्य के अन्य भागों से यहां (फसलों की) कटाई के लिए आते हैं। ये मजदूर कोई एहतियात नहीं बरतते और टीकाकरण के बारे में भी नहीं जानते।” गुजरात में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में कमी के मद्देनजर राज्य सरकार ने दो सितंबर से कक्षा छह से आठ तक के स्कूल खोलने की अनुमति दी थी।