नए बने कम दबाव के क्षेत्र की वजह से ओडिशा में भारी बारिश

Heavy rain odisha
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
मौसम कार्यालय ने यह जानकारी दी। भुवनेश्वर स्थित मौसम कार्यालय ने बताया कि उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर सुबह मौजूद मौसम प्रणाली अगले 24 घंटे में स्पष्ट निम्म दबाव में बदलकर ओडिशा के तट की ओर बढ़ने की संभावना है।

बंगाल की खाड़ी में बने चक्रवाती परिसंचरण के कम दबाव में तब्दील होने की वजह से सोमवार को ओडिशा के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश दर्ज की गई। मौसम कार्यालय ने यह जानकारी दी। भुवनेश्वर स्थित मौसम कार्यालय ने बताया कि उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर सुबह मौजूद मौसम प्रणाली अगले 24 घंटे में स्पष्ट निम्म दबाव में बदलकर ओडिशा के तट की ओर बढ़ने की संभावना है। मौसम कार्यालय ने बताया कि इसके प्रभाव से बुधवार तक पूरे राज्य में भारी बारिश और आंधी की संभावना है। कार्यालय ने बताया कि भुवनेश्वर और कटक शहरों में मंगलवार को भारी बारिश का एक-दो दौर और चलने की संभावना है।

मौसम विभाग ने मछुआरों की सलाह दी है कि वे मंगलवार को समुद्र में न जाएं क्योंकि उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। आंकड़ों के मुताबिक सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे समाप्त हुए 24 घंटे के दौरान मल्कानगिरी के मैथिली में सबसे अधिक 84 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई जबकि कोरापुट के लाम्तापुर में 82.3मिमी और नबरंगपुर जिले की तेनतुलीखुंटी में 79 मिमी बारिश दर्ज की गई। सोमवार सुबह से ही भुवनेश्वर, खुर्दा शहर, तलचर, चांदबली सहित विभिन्न स्थानों पर भारी बारिश हो रही है।

राज्य में गत 24 घंटे के दौरान औसतन 23.1 मिमी बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने संबलपुर, सुबर्णपुर और झारसुगुड़ा सहित ओडिशा के पश्चिमी जिलों में मंगलवार के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है, जिसका अभिप्राय है कि मूसलाधार बारिश होने की संभावना है। विभाग ने पहाड़ी इलाकों में भूस्खलन, जर्जर घरों की दीवार गिरने और निचले इलाकों में जल जमाव की आशंका जताई है। मौसम कार्यालय ने बताया कि कटक, कालाहांडी, नौपाड़ा, कंधमाल, नयागढ़, ढेंकनाल, क्योंझर और मयूरभंज जिलों के कई स्थानों पर भी भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम वैज्ञानिकों ने बुधवार को भी ओडिशा के पश्चिमी जिलों में भारी से भारी बारिश की संभावना जताई है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़