दिल्ली में भारी बारिश के बाद जगह-जगह भरा पानी, आम जनजीवन हुआ प्रभावित

delhi rains
मौसम विशेषज्ञों ने कहा कि उत्तर-पश्चिम भारत में अगले दो तीन दिन तक बंगाल की खाड़ी से आर्द्रता से भरी पुरवैया हवाओं और अरब सागर से दक्षिणपूर्वी हवाओं का मिलना जारी रह सकता है।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को हुई बारिश से शहर के निचले इलाकों में जलजमाव के कारण यातायात प्रभावित हो गया। भारतीय मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा कि दिल्ली के अधिकांश हिस्सों के अलावा आसपास के हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी बारिश हुई। बारिश के कारण शहर के निचले इलाकों और प्रमुख चौराहों पर जलजमाव हो गया। स्थानीय लोगों ने घरों में घुसते बारिश के पानी और पानी भरी हुई सड़कों पर फंसे हुए वाहनों की तस्वीरें और वीडियो साझा किये। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने पहले ही मंगलवार और बुधवार को दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड तथा केंद्रशासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर और और लद्दाख में भारी से बहुत भारी बारिश होने का पुर्वानुमान जताया था। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना के बीच एक और प्राकृतिक आपदा, बारिश और बाढ़ के चलते 8 राज्यों में 470 लोगों की मौत 

विभाग के अनुसार, “बृहस्पतिवार को बारिश की तीव्रता और वितरण में काफी कमी आने की संभावना है।” मौसम विशेषज्ञों ने कहा कि उत्तर-पश्चिम भारत में अगले दो तीन दिन तक बंगाल की खाड़ी से आर्द्रता से भरी पुरवैया हवाओं और अरब सागर से दक्षिणपूर्वी हवाओं का मिलना जारी रह सकता है। मंगलवार को दिल्ली में अनेक स्थानों पर मध्यम बारिश दर्ज की गई। मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को दिल्ली में सफदरजंग मौसम केंद्र में 24.8 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। रविवार को शहर में भारी बारिश से मची तबाही के कारण चार लोगों की मौत हो गई।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़