अरुणाचल के पूर्व सीएम के भाई पर भ्रष्टाचार के मामले में CBI ने कसा शिकंजा

how-the-cbi-cracks-down-on-corruption-in-the-case-of-former-cm-brother-of-arunachal-pradesh
अधिकारियों ने कहा कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने शिलांग के उमरोई में एक केन्द्रीय विद्यालय के भवन निर्माण से संबंधित कार्य पर गुवाहाटी उच्च न्यायालय के आदेश के बाद प्रारंभिक जांच की थी। इसमें आरोप लगाया गया था कि तुकी की भाभी नबाम मेरी के मालिकाना हक वाली कंपनी मेरी एसोसिएट्स को कई ठेके दिये गये, जिसका यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में चालू खाता है।

नयी दिल्ली। सीबीआई ने अरुणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री नबाम तुकी के भाई नबाम हरि, उनकी पत्नी और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के खिलाफ सरकारी ठेकों में हुए कथित भ्रष्टाचार को लेकर मामला दर्ज किया। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। सीबीआई ने आरोप लगाया है कि यह मामला तुकी के राज्य के लोक कल्याण मंत्री रहते हुए बिना अनुबंध आमंत्रित किये परिजन को ठेके देने से जुड़ा है।

इसे भी पढ़ें: सरकार की मुख्य प्राथमिकता कानून व्यवस्था को मजबूत बनाना: पेमा खांडू

अधिकारियों ने कहा कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने शिलांग के उमरोई में एक केन्द्रीय विद्यालय के भवन निर्माण से संबंधित कार्य पर गुवाहाटी उच्च न्यायालय के आदेश के बाद प्रारंभिक जांच की थी। इसमें आरोप लगाया गया था कि तुकी की भाभी नबाम मेरी के मालिकाना हक वाली कंपनी मेरी एसोसिएट्स को कई ठेके दिये गये, जिसका यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में चालू खाता है। खाते में उनके पति नबाम हरि भी नामित हैं। अधिकारियों ने कहा कि ठेके 2005 से 2007 के बीच दिये गए।

 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़