गुजरात में केजरीवाल ने युवाओं से किए 5 वादे, बोले- हर बेरोज़गार को रोज़गार देंगे, बेरोजगारों को प्रतिमाह 3000 का भत्ता

Arvind Kejriwal
Twitter
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम रोजगार की गारंटी दे रहे हैं। पांच साल के भीतर हर बेरोज़गार को रोज़गार की गारंटी दे रहे हैं। हमने दिल्ली में करके दिखाया है। वहां पर पिछले 5 साल में 12 लाख बच्चों को रोजगार दिया। मुझे रोजगार देना आता है और मेरी नीयत भी साफ है।

अहमदाबाद। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के राजकोट में दौरे बढ़ गए हैं। आपको बता दें कि अरविंद केजरीवाल का 7 दिनों में यह दूसरा राजकोट दौरा है। इससे पहले उन्होंने व्यापारियों के साथ संवाद करते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा था और सोमवार को जहरीली शराब को लेकर हमलावर दिखाई दिए। इसके साथ ही उन्होंने युवाओं से 5 वादे किए।

इसे भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी को कितना चैलेंज दे पाएंगे अरविंद केजरीवाल? जानें ताजा सर्वे के नतीजे 

उन्होंने कहा कि हम रोजगार की गारंटी दे रहे हैं। पांच साल के भीतर हर बेरोज़गार को रोज़गार की गारंटी दे रहे हैं। हमने दिल्ली में करके दिखाया है। वहां पर पिछले 5 साल में 12 लाख बच्चों को रोजगार दिया। मुझे रोजगार देना आता है और मेरी नीयत भी साफ है। उन्होंने कहा कि मैंने अपने सभी मंत्रियों के साथ बैठकर यह प्रण लिया है कि अगले 5 साल में 20 लाख बच्चों को और नौकरी देंगे।

केजरीवाल के युवाओं को 5 वादे:-

  • हर बेरोज़गार को रोज़गार देंगे
  • जब तक नौकरी नहीं तब तक 3000 रुपए प्रतिमाह भत्ता देंगे
  • 10 लाख सरकारी नौकरी का वादा
  • पेपर लीक के ख़िलाफ़ कड़ा क़ानून बनाएंगे
  • सहकारी क्षेत्र की भर्ती में सिफ़ारिश और भ्रष्टाचार को बंद करेंगे। आम युवाओं को नौकरी मिलेगी।

अरविंद केजरीवाल ने जहरीली शराब का जिक्र करते हुए कहा कि हादसे के अगले दिन पीड़ितों से मिलने के लिए मैं अस्पताल गया था। बहुत गरीब परिवार से यह लोग आते हैं और उन लोगों से बात करके काफी दुख हुआ। उन्होंने कहा कि शायद गुजरात के मुख्यमंत्री और सीआर पाटिल साहब उन लोगों से मिलने नहीं गए।

इसे भी पढ़ें: 'दिल्ली में पुरानी नीति से बेची जाएगी शराब', सिसोदिया बोले- भाजपा ने CBI-ED के नाम से कारोबारियों को डराया 

उन्होंने कहा कि मैंने किसी भाजपा वाले से पूछा कि मुख्यमंत्री और पाटिल साहब उनसे मिलने के लिए क्यों नहीं गए ? तो भाजपा वाला बोलता है कि इससे वोट पर असर नहीं पड़ेगा। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हर चीज में वोट नहीं होता, इंसान की जिंदगी महत्वपूर्ण होती है। इंसान का इंसान से रिश्ता जरूरी होता है, दिल्ली का मुख्यमंत्री अगर गुजरात आकर पीड़ितों से मिल सकता है तो यहां के मुख्यमंत्री का तो फर्ज बनता है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़