मैंने कभी भी आतंकवाद को बढ़ावा नहीं दिया: जाकिर नाइक

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 11 2018 8:35PM
मैंने कभी भी आतंकवाद को बढ़ावा नहीं दिया: जाकिर नाइक

विवादित इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक ने आज दावा किया कि उसने कभी भी आतंकवाद को बढ़ावा नहीं दिया है और उसका मकसद हमेशा सांप्रदायिक शांति और एकता को बढ़ावा देना रहा है।

मुंबई। विवादित इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक ने आज दावा किया कि उसने कभी भी आतंकवाद को बढ़ावा नहीं दिया है और उसका मकसद हमेशा सांप्रदायिक शांति और एकता को बढ़ावा देना रहा है। वह भारत में आतंकवाद से संबंधित मामलों में वांछित है और गिरफ्तारी से बचने के लिए मलेशिया में रह रहा है। एक बयान में नाइक ने दावा किया कि उनपर आतंकवाद , घृणित भाषण , और धन शोधन का आरोप लगाने के लिए मीडिया ने छेड़छाड़ की गई वीडियो क्लिप , संदर्भ से बाहर उद्धधरण और कई अन्य अनुचित तरीके अपनाएं हैं। उसने मलेशिया में रहने की इजाजत देने के लिए वहां के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद की तारीफ भी की। 

 
नाइक ने हाल में मोहम्मद से मुलाकात की थी जिन्होंने नाइक को प्रत्यार्पित करने के भारत के अनुरोध को खारिज कर दिया है और कहा है कि उन्होंने उनके देश को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया है। अपने प्रवक्ता के जरिए जारी बयान में नाइक ने दावा किया, ‘‘मैंने इस्लाम के नाम पर या अन्यत्र कभी भी आतंकवाद को बढ़ावा नहीं दिया है।’’ उसने कहा, ‘‘मेरे से संबंध बताने वाला कोई भी बयान इंसानियत के खिलाफ है और काल्पनिक बयान है।’’ 
 
नाइक ने कहा, ‘‘मेरा मकसद हमेशा से सांप्रदायिक शांति और एकता को बढ़ावा देने वाला रहा है जो मुझपर लगाए गए आरोपों के एकदम उलट है।’’ उसने यह भी कहा, ‘‘मैं फिर कहता हूं कि एक मुस्लिम तब तक एक अच्छा मुसलमान नहीं बन सकता है जब तक वह एक अच्छा इंसान नहीं बन जाता है।’’ एनआईए ने 2016 में विभिन्न धार्मिक समूहों में बैर को बढ़ावा देने के आरोप में नाइक के खिलाफ आतंकवाद रोधी कानून के तहत मामला दर्ज किया था। 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप