निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे उत्पल पर्रिकर, भाजपा से नहीं बनी बात, पणजी से मांगा था टिकट

निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे उत्पल पर्रिकर, भाजपा से नहीं बनी बात, पणजी से मांगा था टिकट
प्रतिरूप फोटो

पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने बताया कि मैं पणजी निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ूंगा। 40 विधानसभा सीटों वाले राज्य में 14 फरवरी को मतदान होंगे और 10 मार्च को चुनाव परिणाम सामने आएंगे। ऐसे में तमाम राजनीतिक दलों ने मतदाताओं को लुभाना शुरू कर दिया है।

पणजी। पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने शुक्रवार को पणजी से निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया है। आपको बता दें कि उत्पल पर्रिकर ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से पणजी का टिकट मांगा था लेकिन पार्टी ने पणजी का टिकट देने से मना कर दिया था। जिसके बाद उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया है। हालांकि उन्होंने पहले ही चुनाव प्रचार शुरू कर दिया था। 

इसे भी पढ़ें: Goa Assembly Election 2022 | बीजेपी की लिस्ट से मनोहर पर्रिकर के बेटे का नाम आउट, केजरीवाल ने ऑफर किया टिकट 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, उत्पल पर्रिकर ने बताया कि मैं पणजी निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ूंगा। 40 विधानसभा सीटों वाले राज्य में 14 फरवरी को मतदान होंगे और 10 मार्च को चुनाव परिणाम सामने आएंगे। ऐसे में तमाम राजनीतिक दलों ने मतदाताओं को लुभाना शुरू कर दिया है। ऐसे में भाजपा ने गुरुवार को 34 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की थी। जिसमें स्पष्ट हो गया था कि पणजी से उत्पल पर्रिकर को टिकट नहीं मिलेगा।

भाजपा ने दिए थे दो विकल्प

गोवा भाजपा प्रभारी देवेंद्र फडणवीस ने पार्टी उम्मीदवारों की पहली सूची जारी करते हुए कहा था कि उत्पल पर्रिकर से चर्चा हुई है। हमने उन्हें दो विकल्प दिए हैं। जिनमें से पहला विकल्प को उन्होंने ठुकरा दिया है। ऐसे में दूसरे विकल्प पर चर्चा हो रही है। हम समझते हैं कि वह मान जाएंगे। उन्होंने कहा था कि वर्तमान में अतनासियो मोंटेसेरेट विधायक है, इसलिए उनका टिकट काटना उचित नहीं था। मनोहर पर्रिकर जी का परिवार हमारा परिवार है।

पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद पणजी में उपचुनाव हुए थे, जिसमें कांग्रेस के अतनासियो मोंटेसेरेट ने जीत दर्ज की थी। इसके बाद वो भाजपा में शामिल हो गए थे। 

इसे भी पढ़ें: क्या पणजी से चुनाव लड़ने की जिद छोड़ेंगे उत्पल पर्रिकर ?  

आम आदमी पार्टी ने दिया था ऑफर

उत्पल पर्रिकर को पणजी से टिकट नहीं दिए जाने पर आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा पर उपयोग करो और फेंक दो की नीति अपनाने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि गोवावासी उदास महसूस करते हैं कि भाजपा ने पर्रिकर परिवार के साथ भी उपयोग करो और फेंक दो की नीति अपनायी। मैंने हमेशा ही मनोहर पर्रिकर जी का सम्मान किया है। उत्पल जी का आप से जुड़ने एवं चुनाव लड़ने का स्वागत है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।