झारखंड में हुआ IED विस्फोट, नक्सलरोधी अभियान के दौरान विस्फोट में घायल हुआ उपनिरीक्षक

ied blast
ANI Image
केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के एक उपनिरीक्षक आईईडी विस्फोट की चपेट में आने से घायल हो गए है। नक्सलियों द्वारा विस्फोटक पदार्थ में किए गए धमाके के बाद घायल उपनिरीक्षक को इलाज के लिए हेलीकॉप्टर से रांची भेजा गया है।

चाईबासा। झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिले के जंगलों में बुधवार को नक्सलरोधी अभियान के दौरान आईईडी विस्फोट की चपेट में आने से मुफस्सिल थाना अंतर्गत अंजदबेड़ा गांव में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के उपनिरीक्षक इंसार अली घायल हो गए। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि एक बार फिर नक्सलियों द्वारा विस्फोटक पदार्थ (आईईडी) में किये गये धमाके से घायल उपनिरीक्षक को बेहतर इलाज के लिए तत्काल हेलीकॉप्टर से रांची भेजा गया जहां उनकी हालत स्थिर बतायी गयी है। 

पश्चिम जिले के पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आशंका जताई जा रही है कि टोंटो, मुफस्सिल और गोइलकेरा थाना क्षेत्र के जंगलों में नक्सलियों ने चप्पे-चप्पे पर आईईडी लगा रखा है। पुलिस प्रवक्ता ने घटना की सूचना देते हुए बताया कि पिछले 15 दिनों के अंदर इंसार अली 11वें सुरक्षाकर्मी हैं जो नक्सलियों के द्वारा लगाए गए ‘इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस’ (आईईडी) की चपेट में आने से घायल हुए हैं। सुरक्षाबलों के द्वारा बुधवार को तलाशी अभियान चलाया जा रहा था, तभी अंजदबेड़ा गांव के पास जंगल में आईडी में विस्फोट हो गया जिसकी चपेट में आने से इंसार अली घायल हो गए। 

प्रवक्ता ने बताया कि घायल इंसार को बेहतर इलाज के लिए हेलीकॉप्टर के माध्यम से रांची भेज दिया गया है। जवान की हालत स्थिर बनी हुई है। इस संबंध में जानकारी देते हुए चाईबासा के पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने कहा कि कोल्हान क्षेत्र में भाकपा (माओवादी) के नक्सलियों की बड़ी संख्या में उपस्थिति और किसी बड़ी घटना को अंजाम दिये जाने की कोशिश की सूचना मिली है। 

शेखर ने कहा कि इस सूचना पर चाईबासा पुलिस, कोबरा की 209वीं और 203वीं बटालियन, झारखंड जगुआर और सीआरपीएफ की 60वीं, 174वीं और 197वीं बटालियन की एक संयुक्‍त टीम जंगलों में तलाशी अभियान चला रही है। इसी दौरान बुधवार को प्रातः लगभग आठ बजे मुफस्सिल थानान्तर्गत ग्राम जोजोहातु से अंजदबेड़ा के बीच सुरक्षा बलों को लक्षित करने के उद्देश्य से नक्सलियों द्वारा एक आईईडी का विस्फोट किया गया, जिसकी चपेट में आने से सीआरपीएफ 197 बटालियन के उपनिरीक्षक (एसआई) इंसार अली जख्मी हो गये। उन्होंने बताया कि तलाशी अभियान में उसी क्षेत्र में एक अन्य जिंदा पाईप बम बरामद किया गया है, जिसे सुरक्षा बलों एवं बम निरोधक दस्‍ते ने नष्‍ट कर दिया। 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़