राष्ट्र की बागडोर काबिल हाथों में हो तो संघर्ष सफलता में बदलता है : स्मृति ईरानी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 28, 2020   11:20
राष्ट्र की बागडोर काबिल हाथों में हो तो संघर्ष सफलता में बदलता है : स्मृति ईरानी

केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने शनिवार को कहा कि यदि राष्ट्र की बागडोर काबिल हाथों में हो तो संघर्ष सफलता में बदलता है और देश की कमान जनता के आशीर्वाद व कार्यकर्ताओं के प्रयास से राष्ट्र नायक नरेंद्र मोदी के हाथ में है।

लखनऊ। केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने शनिवार को कहा कि यदि राष्ट्र की बागडोर काबिल हाथों में हो तो संघर्ष सफलता में बदलता है और देश की कमान जनता के आशीर्वाद व कार्यकर्ताओं के प्रयास से राष्ट्र नायक नरेंद्र मोदी के हाथ में है। ईरानी ने कहा कि जनता से संवाद ही भाजपा की थाती है और यह इसलिए संभव हो सका क्योंकि प्रधानमंत्री ने डिजिटल इंडिया का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने आयुष्मान भारत से 10 करोड़ परिवारों को चिकित्सा सहायता का संकल्प लिया।यह अकल्पनीय था, लेकिन एक साल के भीतर देश में एक करोड़ से अधिक परिवारों और उत्तर प्रदेश में 18 लाख परिवारों को लाभ मिला है।

इसे भी पढ़ें: राजस्थान में रविवार को भाजपा करेगी रैली, स्मृति ईरानी आत्मनिर्भर भारत अभियान के बारे में देंगी जानकारी

भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास व कपड़ा मंत्री ईरानी ने शनिवार को मध्याचंल की डिजिटल जनसंवाद रैली को सम्बोधित किया। पार्टी ने बताया कि रैली में अवध व कानपुर, बुन्देलखण्ड क्षेत्र के लाखों लोगों सहित पार्टी के बूथ स्तर तक के कार्यकर्ता शामिल हुये। उन्होंने इस दौरान कांग्रेस और उसकी अध्यक्ष सोनिया गांधी पर भी जमकर निशाना साधा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।