महाराष्ट्र में कोरोना का कोहराम जारी, उपमुख्यमंत्री बोले- नियमों को नहीं माना तो लॉकडाउन पर करना पड़ेगा विचार

Ajit Pawar
उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा कि हालात बिगड़ रहे हैं। हर किसी को कोविड-19 दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करना चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है तो हमें लॉकडाउन पर विचार करना पड़ेगा।

पुणे। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं। अबतक एक दिन में सर्वाधिक 35,952 मामले गुरुवार को दर्ज किए गए हैं। जिसके बाद प्रदेश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 26,00,833 हो गई। इसी बीच उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने पुणे में अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ साप्ताहिक कोविड-19 समीक्षा बैठक की। 

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र के मंत्री का दावा, रश्मि शुक्ला ने चुनाव के बाद किया था संपर्क, भाजपा के लिए मांगा था समर्थन 

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि हालात बिगड़ रहे हैं। हर किसी को कोविड-19 दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करना चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है तो हमें लॉकडाउन पर विचार करना पड़ेगा। प्राप्त जानकारी के मुताबिक पुणे प्रशासन ने उपमुख्यमंत्री पवार के सामने शहर में 1 से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाए जाने का प्रस्ताव रखा। हालांकि, इस प्रस्ताव को अजित पवार ने ठुकरा दिया।  

इसे भी पढ़ें: सचिन वाजे को 3 अप्रैल तक NIA की हिरासत में भेजा गया, निलंबित अधिकारी ने कोर्ट में किया बड़ा दावा 

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र में गुरुवार को एक दिन में कोरोना संक्रमण के सबसे अधिक 35,952 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 26,00,833 हो गई। राज्य में बीते चार दिन में संक्रमण के एक लाख से अधिक मामले सामने आए हैं। इसके अलावा संक्रमण के चलते 111 लोगों की मौत हो गई। जिसके बाद मृतकों की संख्या 53,795 हो गई।

अन्य न्यूज़