मेरठ में पिंकी चिंयोटी के नेतृत्व में यूपी मोटर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने लिंक रोड को लेकर निकाली रैली

मेरठ में पिंकी चिंयोटी के नेतृत्व में यूपी मोटर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने लिंक रोड को लेकर निकाली रैली

यूपी मोटर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन व गुड़ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के व्यापारी बुधवार को पिंकी चिंयोटी की अगुवाई में सड़क पर उतर आये। भरी संख्या में सड़क पर उतरे व्यापारियों व ट्रांसपोर्टरों ने बैनर और तख्ती लेकर प्रदर्शन कर बागपत रोड रेलवे रोड लिंक मार्ग निर्माण की अपनी मांग को रखाते हुए उन्होंने जाम की समस्या के स्थाई समाधान के लिए लिंक मार्ग का निर्माण जरूरी बताया

यूपी मोटर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन व गुड़ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के व्यापारी बुधवार को पिंकी चिंयोटी की अगुवाई में सड़क पर उतर आये। भरी संख्या में सड़क पर उतरे व्यापारियों व ट्रांसपोर्टरों ने बैनर और तख्ती लेकर प्रदर्शन कर बागपत रोड रेलवे रोड लिंक मार्ग निर्माण की अपनी मांग को रखाते हुए उन्होंने जाम की समस्या के स्थाई समाधान के लिए लिंक मार्ग का निर्माण जरूरी बताया। व्यापारियों व ट्रांसपोर्टरों ने कहा की सरकार को 2 लाख लोगों की समस्या की तरफ ध्यान देना ही होगा।

मेरठ - बागपत रोड पर जाम की समस्या के स्थाई समाधान के लिए बागपत रोड रेलवे रोड लिंक मार्ग निर्माण की मांग को लेकर पिछले तीन दशक से स्थानीय लोग और व्यापारी लिंक रोड के निर्माड की मांग कर रहे हैं। अब यह मांग आंदोलन में तब्दील होती नज़र आने लगी है। बागपत रोड और रेलवे रोड की करीब 40 कालोनियों के साथ ही इस इलाके में स्थित करीब 20 स्कूलों के बच्चे भी अब इस आंदोलन में शामिल हो चुके हैं। लगातार लिंक मार्ग निर्माण की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन और रैली निकाली जा रही है। 

बुधवार को लिंक मार्ग निर्माण की मांग को लेकर टीपी नगर इलाके के ट्रांसपोर्टरों ने भी अमरजीत, पिंकी चिंयोटी के नेतृत्व में रैली निकाली और लिंक मार्ग निर्माण आंदोलन का समर्थन किया। इस दौरान पिंकी चिंयोटी ने कहा कि पिछले कई माह से स्कूल के बच्चे बागपत रोड को रेलवे रोड लिंक रोड से जोड़ने की मांग कर रहे हैं। पिछले तीन दशक से स्थानीय लोग तथा व्यापारी भी इस लिंक रोड को लेकर मांग कर रहे हैं। स्कूल के बच्चों को 1 किलोमीटर के लिए पांच 5 किलोमीटर का चक्कर काटना पड़ता है। और जाम से जूझना पड़ता है। बागपत रोड  को रेलवे रोड से लिंक करने से  2 लाख लोगों को फायदा मिलेगा। इससे डीजल और पेट्रोल की बचत तो होगी ही, समय की बचत भी होगी। उन्होंने बताया की जब यह सरकार काम रही है तो फिर 800 मीटर की लिंक रोड क्यों नहीं। किसी भी सरकार के लिए 800 मीटर की लिंक रोड बड़ा काम नहीं है। लिंक मार्ग के निर्माण से यहां के लोगों को जाम की समस्या को निजात मिलेगी। क्योंकि रैपिड रेल के चल रहे काम के चलते दिल्ली रोड पर यातायात प्रभावित है। ट्रांसपोर्ट नगर से वाहनों को डायवर्ट करके निकाला जा रहा है ऐसे में हेर समय जाम की स्थिति बनी रहती है। जिससे लोग परेशान हो रहे हैं। ट्रांसपोर्टरों ने मांग की है कि लिंक मार्ग का निर्माण जल्द से जल्द किया जाए, ताकि जाम की समस्या से लोगों को निजात मिल सके।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।