Punjab : राहुल बोले, ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई

Rahul
प्रतिरूप फोटो
ANI
पुलिस महानिरीक्षक जी एस ढिल्लों ने बताया कि राहुल गांधी ने स्वयं उस व्यक्ति को बुलाया था और सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई थी। वडिंग ने भी कहा कि सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई और उक्त व्यक्ति राहुल गांधी का कट्टर समर्थक है।

‘भारत जोड़ो यात्रा’ के होशियारपुर से गुजरने के दौरान एक व्यक्ति राहुल गांधी की ओर तेजी से चलते हुए आया और उन्हें गले लगाने का प्रयास किया, लेकिन कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने उसे रोक दिया। पुलिस महानिरीक्षक जी एस ढिल्लों ने बताया कि राहुल गांधी ने स्वयं उस व्यक्ति को बुलाया था और सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई थी। वडिंग ने भी कहा कि सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई और उक्त व्यक्ति राहुल गांधी का कट्टर समर्थक है।

घटना के वीडियो में जैकेट पहने एक व्यक्ति को कांग्रेस सांसद की ओर तेजी से बढ़ते हुए और उन्हें गले लगाने का प्रयास करते हुए देखा जा सकता है। लेकिन, वहां मौजूद वडिंग और पार्टी के अन्य कार्यकर्ताओं ने व्यक्ति को रोका और पीछे धकेल दिया। पुलिस महानिरीक्षक ढिल्लों ने कहा, ‘‘मैंने तथ्य खंगाले हैं। राहुल जी ने खुद उसे बुलाया और फिर उसने उन्हें गले लगाने की कोशिश की। इसके बाद राजा वडिंग ने उन्हें पीछे धकेल दिया, क्योंकि यात्रा एक गति से चलती है और इससे उसकी गति बाधित हो रही थी।’’

उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ सामने नहीं आया, जिससे सुरक्षा में चूक होने के संकेत मिलते हों। बाद में एक संवाददाता सम्मेलन में राहुल गांधी ने भी कहा कि सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई है। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि आप इसे सुरक्षा चूक कैसे कह रहे हैं। मुझे लगता है कि सुरक्षा कर्मियों ने व्यक्ति की जांच की थी और वह कुछ ज्यादा उत्साहित था।’’ राहुल ने कहा, ‘‘यात्रा को लेकर बहुत उत्साह है। कई लोग ज्यादा उत्साहित हो जाते हैं और यह मामला भी ऐसा ही था। वह कुछ ज्यादा उत्साहित हो गया था, इसमें कोई दिक्कत नहीं है। ऐसा पहले भी कई बार हुआ है। मैं इसे सुरक्षा चूक नहीं कहूंगा।’’

कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ कड़ाके की ठंड के बीच राहुल के नेतृत्व में मंगलवार को सुबह पंजाब के टांडा से आगे बढ़ी। मुकेरियां में यात्री रात्रि विश्राम करेंगे। तमिलनाडु के कन्याकुमारी से सात सितंबर को शुरू हुई ‘भारत जोड़ो यात्रा’ 30 जनवरी को श्रीनगर में संपन्न होगी, जहां राहुल गांधी जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी में तिरंगा फहराएंगे। यह पदयात्रा अभी तक तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और हरियाणा से होकर गुजर चुकी है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़