राजस्थान में व्यक्ति को उसके ही रिश्तेदारों ने पीटा, विधवा से प्रेम प्रसंग का था शक

beaten
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
थाना प्रभारी गुमान सिंह ने बताया कि पीड़ित गोपाल लोढ़ा और आरोपी एक ही इलाके में रहते हैं। सिंह ने बताया कि शनिवार को उन्होंने लोढ़ा को फोन कर उसके एक रिश्तेदार के घर पर बुलाया और उसपर हमला किया।सिंह के मुताबिक, उन्होंने परिवार की एक विधवा से उसे कई बार बातचीत करते हुए देखा था और उन्हें शक हुआ कि लोढ़ा का महिला से प्रेम प्रसंग है।

कोटा, 1 अगस्त। राजस्थान के झालावाड़ जिले में 30 वर्षीय व्यक्ति को उसके ही रिश्तेदारों ने कथित रूप से पीटा। उन्हें शक था कि उसका परिवार की ही एक विधवा से प्रेम प्रसंग है। पुलिस ने रविवार को बताया कि घटना झालावाड़ जिले के डांगीपुरा थाने के कोलुखेड़ी गांव में शनिवार देर रात घटित हुई। पुलिस ने बताया कि उन्होंने छह लोगों को गिरफ्तार किया है और पहले उनके खिलाफ लोक शांति भंग करने के लिए मामला दर्ज किया था, लेकिन बाद में व्यक्ति को पीटने और उसे प्रताड़ित करने के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत धाराएं जोड़ी गईं।

थाना प्रभारी गुमान सिंह ने बताया कि पीड़ित गोपाल लोढ़ा और आरोपी एक ही इलाके में रहते हैं। सिंह ने बताया कि शनिवार को उन्होंने लोढ़ा को फोन कर उसके एक रिश्तेदार के घर पर बुलाया और उसपर हमला किया।सिंह के मुताबिक, उन्होंने परिवार की एक विधवा से उसे कई बार बातचीत करते हुए देखा था और उन्हें शक हुआ कि लोढ़ा का महिला से प्रेम प्रसंग है। सिंह ने बताया, ‘वे उसे सबक सिखाना चाहते थे।” घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि आरोपियों ने लोढ़ा को मूत्र पीने के लिए मजबूर किया। बहरहाल, पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ के बाद इस आरोप का खंडन किया है और कहा है कि उन्होंने उसे पानी पीने के लिए दिया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़