पश्चिम बंगाल में भाजपा प्रत्याशी पर दो बार हमले की कोशिश, रिपोर्ट तलब

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 12 2019 4:35PM
पश्चिम बंगाल में भाजपा प्रत्याशी पर दो बार हमले की कोशिश, रिपोर्ट तलब
Image Source: Google

अधिकारियों ने बताया कि घोष को मामूली चोटें आईं जब महिलाओं के एक समूह ने उस वक्त उन पर कथित तौर पर हमला कर दिया जब वह सुबह केशपुर इलाके में बने मतदान केंद्र में भाजपा के एक एजेंट को भीतर ले जाने का प्रयास कर रही थीं।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के छठे चरण के लिए जारी मतदान के बीच भाजपा प्रत्याशी भारती घोष पर स्थानीय लोगों ने दो बार कथित तौर पर हमला किया। ये हमले उस वक्त किए गए जब भारतीय पुलिस सेवा के पूर्व अधिकारी ने घाटल लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में रविवार को मतदान केंद्रों में प्रवेश का प्रयास किया। हमले की एक घटना में पथराव के दौरान उनका एक सुरक्षा गार्ड घायल हो गया।
भाजपा को जिताए
 
 


राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने घटनाओं के संबंध में पश्चिमी मिदनापुर के जिला मजिस्ट्रेट से रिपोर्ट मांगी है। अधिकारियों ने बताया कि घोष को मामूली चोटें आईं जब महिलाओं के एक समूह ने उस वक्त उन पर कथित तौर पर हमला कर दिया जब वह सुबह केशपुर इलाके में बने मतदान केंद्र में भाजपा के एक एजेंट को भीतर ले जाने का प्रयास कर रही थीं। इसके बाद उनके काफिले पर बम फेंके गए एवं पथराव किया गया जब ईवीएम से छेड़छाड़ की शिकायत मिलने के बाद वह केशपुर से दोगछिया के अन्य मतदान केंद्र जाने के लिए रवाना हुईं।
 
 
अधिकारियों ने बताया कि पथराव में उनका एक सुरक्षा गार्ड घायल हो गया और एक वाहन क्षतिग्रस्त हो गया जिसके बाद सुरक्षा बलों को लाठीचार्ज करना पड़ा। यह भी आरोप लगा कि भाजपा प्रत्याशी के साथ मौजूद केंद्रीय बलों के कर्मियों की तरफ से गोली चलाए जाने की घटना में तृणमूल कांग्रेस का एक कार्यकर्ता घायल हो गया। हालांकि भाजपा प्रत्याशी ने इस आरोप को खारिज कर दिया।  घोष ने पीटीआई-भाषा से कहा, “तृणमूल कांग्रेस की ओर से मुझे रोकने का जानबूझ कर प्रयास किया गया। उन्होंने मुझ पर हमला किया और मैं घायल हुई। यह पूरी तरह झूठ है कि मेरे सुरक्षा गार्डों ने गोली चलाई।”


 एक वरिष्ठ चुनाव अधिकारी ने कहा, “हमने भाजपा प्रत्याशी पर कथित हमलों को लेकर जिला मजिस्ट्रेट से रिपोर्ट मांगी है। एक बार रिपोर्ट मिलने पर हम जरूरी कदम उठाएंगे।”


 
मुख्य चुनाव अधिकारी ने घोष के केशपुर के पिकुर्दा में एक मतदान केंद्र के भीतर वीडियोग्राफी करते देखे जाने के संबंध में भी रिपोर्ट मांगी है। राज्य के मंत्री एवं टीएमसी नेता फरहाद हकीम ने दावा किया कि मतदान शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा था जब भाजपा ने हिंसा फैलाई।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video