भारत ने की अफगानिस्तान की मदद, वायुसेना के विमान से आए कई सिख परिवार

India help Afghanistan Sikh families return by air force plane
जब तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया, तब वहां से लोग निकलने लगे। उनमें बच्चे भी थे, जिनका पासपोर्ट तक नहीं बना था। ऐसा ही एक बच्चा था चार महीने का इकनूर सिंह, जिसे की वायुसेना के विमान से रविवार सुबह भारत लाया गया।

जब तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया, तब वहां से लोग निकलने लगे। उनमें बच्चे भी थे, जिनका पासपोर्ट तक नहीं बना था। ऐसा ही एक बच्चा था चार महीने का इकनूर सिंह, जिसे की वायुसेना के विमान से रविवार सुबह भारत लाया गया। हिंडन एयरपोर्ट पहुंचने के बाद बच्चे का वीडियो सामने आया है, जिसमें एक बच्ची उसे खिलाती नजर आ रही है। वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है, जिसे काफी पसंद किया जा रहा है।

बच्चे के पिता किरपाल सिंह ने बताया कि उनके साढ़े तीन महीने के बच्चे इकनूर का पासपोर्ट नहीं था, लेकिन भारत सरकार के अधिकारियों ने रोक नहीं लगाई। अफगानिस्तान में तालिबानियों के डर से लोग देश छोड़ रहे हैं, रविवार को हिंडन एयरफोर्स स्टेशन पर भारतीय वायुसेना के विशेष विमान से पहुंचे  लोगों ने बताया कि पीढ़ियों से वहां रहने के बावजूद महज आठ दिन में उनकी हालत दोयम दर्जे की हो गई। जगह जरह मारकाट मची है, जान बचाने के लिए लोग घर-बार छोड़कर भार रहे हैं।

लोगों ने बताया कि वो ऐसी स्थिति के लिए पहले से तैयार नहीं थे, हफ्तेभर पहले काबुल में तालिबानी आ गए और सब बर्बाद हो गया। हमें अपना घर-बार सब कुछ छोड़कर खाली भागना पड़ा।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़