भारतीय तटरक्षक बल ने छुड़ाए गए 32 मछुआरे बांग्लादेश को सौंपे

Fishermen
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) ने मंगलवार को अपने बांग्लादेशी समकक्ष को सुरक्षित बचाए गए 32 मछुआरों को सौंपा, जिनकी नौकाएं खराब मौसम में बंगाल की खाड़ी में पलट गई थीं। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इनमें से 27 को आईसीजी ने बचाया, जबकि पांच को भारतीय मछुआरों ने सुरक्षित पानी से बाहर निकाला था।

कोलकाता, 24 अगस्त। भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) ने मंगलवार को अपने बांग्लादेशी समकक्ष को सुरक्षित बचाए गए 32 मछुआरों को सौंपा, जिनकी नौकाएं खराब मौसम में बंगाल की खाड़ी में पलट गई थीं। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इनमें से 27 को आईसीजी ने बचाया, जबकि पांच को भारतीय मछुआरों ने सुरक्षित पानी से बाहर निकाला था। आईसीजी के अधिकारी ने कहा, भारतीय तटरक्षक बल ने दोनों तटरक्षकों के बीच मौजूदा समझौता ज्ञापन के अनुसार 23 अगस्त की सुबह तड़के 32 बचाए गए बांग्लादेशी मछुआरों को बांग्लादेश तटरक्षक को सौंप दिया।

उन्होंने कहा कि आईसीजी जहाज वरद ने उन्हें भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा पर बांग्लादेश तटरक्षक बल के जहाज ताजुद्दीन को सौंप दिया। मछुआरों को सुक्षित बचाने के लिए बांग्लादेश समकक्ष ने आईसीजी को धन्यवाद दिया। इन मछुआरों को खराब मौसम के दौरान उनकी नावों के पलट जाने के बाद बंगाल की खाड़ी से बचाया गया था। इनमें से ज्यादातर समुद्र में तैरते हुए पाए गए थे। लगभग 24 घंटे तक समुद्र की लहरों से संघर्ष के बाद 20 अगस्त को उन्हें आईसीजी जहाजों और विमानों द्वारा देखा गया था। अधिकारी ने कहा कि मछुआरे बेहद सदमे की स्थिति में थे। उन्हें प्राथमिक उपचार दिया गया और आईसीजी द्वारा भोजन और पानी उपलब्ध कराया गया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़