भारतीय मीडिया को सजग होने की जरूरत: अधिवक्ता रोहित पाण्डेय

Rohit Pandey
सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता रोहित पाण्डेय ने कहा कि प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया से गुहार लगानी चाहिए कि चैनल चलाने के लिए जो लाइसेंस दिए जा रहे हैं क्या वह सही तरीके से दिए गए।

नयी दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता रोहित पाण्डेय ने कहा कि मीडिया को सजग होने की जरूरत है और सुधरने की जरूरत है वरना कोई भी मीडिया पर विश्वास नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि आज के समय में मीडिया वाले थोपने लगे हैं। आप लोगों ने देखा होगा हाथरस वाले मामले में, असहिष्णुता के मामले में इत्यादि। इसका समाधान है आप खुद सुधर जाइए अगर आप सुधर गए तो कोई सवाल नहीं उठाएगा। आज के समय में सब मौलिक अधिकारों की बात करते हैं लेकिन आप लोगों को मौलिक कर्तव्यों की भी बात करनी पड़ेगी। 

इसे भी पढ़ें: एजेंडे से हटकर निष्पक्षता के साथ खबरों को दिखाएं पत्रकार: शाजिया इल्मी 

उन्होंने कहा कि प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया से गुहार लगानी चाहिए कि चैनल चलाने के लिए जो लाइसेंस दिए जा रहे हैं क्या वह सही तरीके से दिए गए। 


प्रभासाक्षी के वेबिनार में जुड़ने के लिए लिंक पर क्लिक करें। 

 

27 Oct, 20 

वेबिनार (12pm): us02web.zoom.us/s/81975834959   

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़