देश में कोरोना मरीजों के ठीक होने की दर 56 प्रतिशत, प्रति लाख व्यक्ति पर संक्रमण के मामले दुनिया में सबसे कम

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 22, 2020   18:26
देश में कोरोना मरीजों के ठीक होने की दर 56 प्रतिशत, प्रति लाख व्यक्ति पर संक्रमण के मामले दुनिया में सबसे कम

मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘ये कम मामले कोविड-19 की रोकथाम, प्रसार रोकने और प्रबंधन के लिए केंद्र सरकार के साथ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश के उठाए गए क्रमिक, एहतियाती कदमों की बदालैत हुआ है।’’

नयी दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि घनी आबादी के बावजूद भारत में प्रति लाख व्यक्ति पर कोविड-19 के मामले दुनिया में सबसे कम हैं और ठीक होने की दर अब करीब 56 प्रतिशत पर पहुंच गयी है। मंत्रालय ने डब्ल्यूएचओ की 21 जून की 153 वीं स्थिति रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा है कि भारत में प्रति एक लाख आबादी पर कोरोना वायरस के 30.04 मामले हैं जबकि वैश्विक औसत तीन गुणा से भी अधिक 114.67 प्रतिशत हैं। मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘ये कम मामले कोविड-19 की रोकथाम, प्रसार रोकने और प्रबंधन के लिए केंद्र सरकार के साथ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश के उठाए गए क्रमिक, एहतियाती कदमों की बदालैत हुआ है।’’ 

इसे भी पढ़ें: UP सरकार ने आगरा मॉडल का झूठा प्रचार करके सच दबाने की कोशिश की: प्रियंका 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की स्थिति रिपोर्ट का उल्लेख करते हुए मंत्रालय ने कहा है कि अमेरिका में प्रति लाख आबादी पर 671.24 मामले हैं, जबकि जर्मनी, स्पेन, ब्राजील और ब्रिटेन में प्रति लाख आबादी पर क्रमश: 583.88, 526.22, 489.42 और 448.86 मामले हैं। मंत्रालय ने कहा कि रूस में प्रति लाख आबादी पर 400.82 मामले हैं जबकि कनाडा, ईरान और तुर्की में क्रमश: 393.52 मामले, 268.98 मामले, 242.82 मामले और 223.53 मामले हैं। मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, सोमवार सुबह तक देश में कोरोना वायरस के 4,25,282 मामले हैं और 13,699 लोगों की मौत हुई है।  मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 9,440 मरीज ठीक हुए। इस तरह ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 2,37,195 हो गयी है और ठीक होने की दर 55.77 प्रतिशत पर पहुंच गयी है।

मंत्रालय के मुताबिक, वर्तमान में संक्रमण के 1,74,387 मामले हैं और सभी चिकित्सकीय निगरानी में हैं। मंत्रालय ने कहा, ‘‘ठीक होने वाले मरीजों और मौजूदा मरीजों के बीच अंतर बढ़ना जारी है।’’ कोविड-19 की जांच के दायरे को लगातार बढ़ाया जा रहा है और सरकारी प्रयोगशाला की संख्या बढ़कर 723 और निजी प्रयोगशाला की संख्या 262 हो गयी है। कुल 985 प्रयोगशाला में कोविड-19 की जांच की जा रही है। 

इसे भी पढ़ें: गोवा में कोरोना से पहली मौत, स्वास्थ्य विभाग करेगा अंतिम संस्कार 

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंसाधन परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक, 21 जून तक 69,50,493 नमूने लिए गए। रविवार को 1,43,267 नमूने लिए गए। सोमवार को सुबह आठ बजे तक कोविड-19 के 14,821 नए मामले आए जिससे संक्रमित लोगों की संख्या 4,25,282 हो गयी और 445 लोगों की मौत के साथ मृतकों की संख्या 13,699 हो गयी। संक्रमित लोगों की संख्या तीन लाख पार करने के आठ दिन बाद ही संक्रमित लोगों की संख्या चार लाख से ज्यादा हो गयी। एक जून के बाद से संक्रमण के 2,34,747 मामले आए हैं। लगातार 11 वें दिन सोमवार को देश में दस हजार से ज्यादा मामले आए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।