प्री-लॉन्च समारोह में बोले जयशंकर, अंतर्राष्ट्रीय संबंधों की शुरुआत खाद्य सुरक्षा से हुई

Jaishankar
ANI
अभिनय आकाश । Nov 24, 2022 1:00PM
प्री-लॉन्च समारोह में विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय संबंधों की शुरुआत खाद्य सुरक्षा से हुई। अपने स्वयं के भोजन को सुरक्षित करने और यह देखने के लिए मौलिक आग्रह कि वे दूसरों से भोजन कैसे प्राप्त कर सकते हैं।

दिल्ली में इंटरनेशनल ईयर ऑफ मिलेट्स के प्री-लॉन्च समारोह को संबोधित करते हुए विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि भारत में विश्व में सबसे ज्यादा 17 मिलियन टन मिलेट्स का उत्पादन किया जाता है, जो विश्व के कुल उत्पादन का 20% है। मैं खाद्य सुरक्षा के लिए तीन चुनौतियां देखता हूं- कोविड, संघर्ष, जलवायु। प्रत्येक ने खाद्य सुरक्षा को महत्वपूर्ण रूप से प्रभावित किया है। 

इसे भी पढ़ें: कठिन समय में भारत ने इंडोनेशिया के साथ दिखाई एकजुटता, भूकंप की वजह से अब तक 56 से ज्यादा लोगों की मौत

प्री-लॉन्च समारोह में विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय संबंधों की शुरुआत खाद्य सुरक्षा से हुई। अपने स्वयं के भोजन को सुरक्षित करने और यह देखने के लिए मौलिक आग्रह कि वे दूसरों से भोजन कैसे प्राप्त कर सकते हैं। यही कारण है कि हम बाजरा के भारतीय वर्ष को बाजरा के अंतर्राष्ट्रीय वर्ष में ले जाने के इच्छुक थे। हम बाजरे के दुनिया के सबसे बड़े उत्पादक हैं, दुनिया के उत्पादन का लगभग 20% हमारा है। 

इसे भी पढ़ें: विदेश मंत्री जयशंकर ने कंबोडिया में कनाडा, इंडोनेशिया और सिंगापुर के अपने समकक्षों से मुलाकात की

एस जयशंकर ने कहा कि अगर देखा जाए कि अंतर्राष्ट्रीय संबंध देशों के बीच क्यों शुरू हुए। ये कहा जा सकता है कि ये खाद्य सुरक्षा के लिए शुरू हुआ, जिससे वे अपने लिए खाने की उपलब्धता सुनिश्चित कर सकें और देख सकें कि वे दूसरों से खाना कैसे प्राप्त कर सकते हैं। 

अन्य न्यूज़