देश के अगले उपराष्ट्रपति होंगे जगदीप धनखड़, विपक्ष की साझा उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा को हराया

Jagdeep Dhankar
ANI
अंकित सिंह । Aug 06, 2022 7:28PM
निवर्तमान उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को खत्म हो रहा है। 11 अगस्त को जगदीप धनखड़ का शपथ ग्रहण समारोह होगा. नए राष्ट्रपति के लिए आज चुनाव कराए गए थे। चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत केंद्रीय मंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, विपक्ष के नेताओं ने मतदान किया।

देश के अगले उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ होंगे। जगदीप धनखड़ ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी मार्गरेट अल्वा को हरा दिया है। उपराष्ट्रपति चुनाव में जगदीप धनखड़ एनडीए के उम्मीदवार थे। वही मार्गरेट अल्वा विपक्ष की साझा उम्मीदवार थीं। कुल 725 सांसदों ने वोट डाला था। जगदीप धनखड़ के पक्ष में 528 वोट पड़े जबकि मार्गरेट अल्वा को 182 वोट मिले हैं। 15 वोट रद्द किए गए हैं। आपको बता दें कि उपराष्ट्रपति चुनाव में संसद के दोनों सदन के सदस्य ही मतदान करते हैं। 

इसे भी पढ़ें: नीति आयोग की बैठक से नीतीश कुमार ने बनाई दूरी, प्रधानमंत्री की मीटिंग में नहीं होंगे शामिल

लोकसभा महासचिव उत्पल के सिंह ने बताया कि एनडीए के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ ने कुल 725 मतों में से 528 मतों के साथ 346 मतों से जीत हासिल की। जबकि 15 को अवैध करार दिया गया, विपक्षी उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा को चुनाव में 182 वोट मिले। राज्यसभा के निर्वाचित और मनोनीत सदस्यों और लोकसभा के निर्वाचित सदस्यों वाले 780 मतदाताओं में से 725 मतदाताओं ने अपने मत डाले। कुल मतदान - 92.94 प्रतिशत रहा।   

इसे भी पढ़ें: बिहार में भाजपा-जदयू के रिश्तो में कम नहीं हो रही कड़वाहट, क्या बदलने वाली है सियासी फिजा?

गौरतलब है कि निवर्तमान उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को खत्म हो रहा है। 11 अगस्त को जगदीप धनखड़ का शपथ ग्रहण समारोह होगा. नए राष्ट्रपति के लिए आज चुनाव कराए गए थे। चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत केंद्रीय मंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, विपक्ष के नेताओं ने मतदान किया। जगदीप धनखड़ देश के पहले ओबीसी उपराष्ट्रपति होंगे। जगदीप धनखड़ के जीत के साथ ही उनके गांव में जश्न का माहौल है। जमकर आतिशबाजी भी की जा रही है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़