जेल में बंद आजम खान लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, बेटे अब्दुल्ला भी इस सीट से ठोकेंगे ताल

जेल में बंद आजम खान लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, बेटे अब्दुल्ला भी इस सीट से ठोकेंगे ताल

अखिलेश यादव ने आरोप लगाया था कि भाजपा की सरकार में सपा के कई लोगों पर इतने झूठे मुकदमे दर्ज किये गये हैं, जिसकी आप कल्पना नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सपा के कई नेताओं पर, वरिष्ठ नेताओं पर लगातार भाजपा की सरकार में झूठे मुकदमे लगाए गये।

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान विधानसभा चुनाव में उतरेंगे। खबर के मुताबिक सीतापुर जेल में बंद आजम खान रामपुर शहर सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। भाजपा ने इस सीट पर आकाश सक्सेना को उतारा है। आकाश सक्सेना ही वह शख्स हैं जिनके दाखिल मुकदमों की वजह से आजम खान फिलहाल जेल में बंद हैं। वही आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को भी समाजवादी पार्टी टिकट देगी। माना जा रहा है कि अब्दुल्लाह आजम स्वार सीट से विधानसभा चुनाव में उतर सकते हैं। आजम खान समाजवादी पार्टी के ताकतवर नेता रहे हैं। जब जब राज्य में समाजवादी पार्टी की सरकार बनी तो वह सबसे ताकतवर मंत्री के रूप में उभरे हैं।

इसे भी पढ़ें: सपा क्या किसी भी दल के साथ नहीं गली चंद्रशेखर की दाल ! अकेले चुनाव लड़ेगी आजाद समाज पार्टी

इतना ही नहीं, चमरौआ से आजम खान के करीबी नसीर अहमद खान को भी समाजवादी पार्टी एक बार फिर से टिकट देने जा रही है। खुद के चुनाव लड़ने के सवाल पर आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम ने कहा कि पार्टी जो फैसला लेगी, वह उसे जरूर मानेंगे। अगर पार्टी कहेगी तो वह चुनावी मैदान में उतरेंगे। आपको बता दें कि आजम खान पर 100 से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। उनमें से ज्यादा मुकदमों में आजम खान को जमानत मिल गई है। हालांकि आजम खान और अब्दुल्ला आजम को चुनाव लड़ाना है या नहीं, इसका फैसला समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ही करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: UP में विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेगी TMC, अखिलेश यादव के लिए इस दिन रैली करेंगी ममता बनर्जी

इससे पहले अखिलेश यादव ने आरोप लगाया था कि भाजपा की सरकार में सपा के कई लोगों पर इतने झूठे मुकदमे दर्ज किये गये हैं, जिसकी आप कल्पना नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सपा के कई नेताओं पर, वरिष्ठ नेताओं पर लगातार भाजपा की सरकार में झूठे मुकदमे लगाए गये। सपा प्रमुख ने अपने बगल में बैठे अब्दुल्ला आजम खान को लेकर इशारा किया कि अब लड़ाई लगातार लड़नी पड़ेगी, इनको फंसाने में कांग्रेस और भाजपा दोनों एक हो गये थे। समाजवादी पार्टी के सांसद एवं पूर्व मंत्री आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को शनिवार देर शाम सीतापुर जेल से रिहा कर दिया गया था। अब्दुल्ला आजम अपने पिता आजम खान के साथ पिछले 23 महीने से सीतापुर जेल में बंद थे। दोनों को 27 फरवरी 2020 को रामपुर जेल से सीतापुर जेल में स्थान्तरित किय गया था। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।