दक्षिणी कश्मीर में JeM के दो सक्रिय सदस्य गिरफ्तार, मिल सकती है खुफिया जानकारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 21, 2019   14:54
दक्षिणी कश्मीर में JeM के दो सक्रिय सदस्य गिरफ्तार, मिल सकती है खुफिया जानकारी

अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार किए गए जैश-ए-मोहम्मद के सदस्यों में संबंधित ट्रक का मालिक भी शामिल है। पिछले बृहस्पतिवार को पंजाब से कश्मीर आ रहे इस ट्रक में आतंकी सवार थे और एके-श्रेणी के राइफल मिले थे।

जम्मू। दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले में पुलिस ने छापेमारी की और जैश-ए-मोहम्मद के दो सक्रिय सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। दरअसल इससे पहले कठुआ में गिरफ्तार किए गए तीन आतंकवादियों से पूछताछ के बाद हासिल की गई जानकारियों के बाद ये गिरफ्तारियां हुई हैं। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार किए गए जैश-ए-मोहम्मद के सदस्यों में संबंधित ट्रक का मालिक भी शामिल है। पिछले बृहस्पतिवार को पंजाब से कश्मीर आ रहे इस ट्रक में आतंकी सवार थे और एके-श्रेणी के राइफल मिले थे।

इसे भी पढ़ें: पुलवामा हमला: CRPF की रिपोर्ट में बड़ा खुलासा, फिदायिन हमला था खुफिया एजेंसियों की नाकामी

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि हमने पुलवामा से जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों के दो समर्थकों को गिरफ्तार किया है। इसमें ट्रक मालिक सुहेल अहमद लाटू और बशीर अहमद लोन शामिल है। उन्होंने बताया कि दोनों को रिमांड पर भेज दिया गया है। उन दोनों से जेईएम मॉड्यूल और उसकी गतिविधियों को बारे में पूछताछ की जा रही है। अधिकारी ने बताया कि इस संबंध में और भी गिरफ्तारियां हो सकती है। अधिकारियों ने बताया कि पिछले बृहस्पतिवार जम्मू-कश्मीर राजमार्ग पर कार्डबोर्ड से भरे ट्रक को रोक कर उसकी तलाशी ली गई और ट्रक में यात्रा कर रहे तीन आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया था। इन लोगों के पास से एके -56 राइफलें, दो एके -47 राइफलें, छह मैगजीन और 180 राउंड गोलियों के साथ ही 11,000 रुपये नकद बरामद किए गए थे।

इसे भी पढ़ें: सुरक्षा बलों से मुठभेड़ में जैश का शीर्ष कमांडर ढेर

पुलिस ने विशिष्ट सूचनाओं के आधार पर लखनपुर में एक ट्रक (जेके 13 ई-2000) को उस समय पकड़ा जब वह पंजाब से कश्मीर घाटी जा रहा था। उन्होंने कहा कि सभी आतंकवादी कश्मीर घाटी के हैं। ट्रक गुलशनबाद, पुलवामा के सुहेल अहमद लाटू का है और जावेद अहमद डार नामक व्यक्ति उसे चला रहा था। पुलिस ने तीनों की पहचान पुलवामा के राजपोरा में रहनेवाले उबैद-उल-इस्लाम और सबील अहमद बाबा के रूप में की है। वहीं जहांगीर अहमद पारे बडगाम के चरार-ए-शरीफ का रहनेवाला है। उन्होंने कहा कि तीनों पंजाब से कश्मीर घाटी में शांति भंग करने के लिए अवैध रूप से हथियार और गोला-बारूद ला रहे थे। अधिकारी ने बताया कि बशीर को यह हथियारों का जखीरा मिलने वाले थे। अब तक इस मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।