राहुल के बयान पर जावडे़कर का पलटवार, कहा- उनकी नौटंकी जनता ने कब की बंद कर दी

राहुल के बयान पर जावडे़कर का पलटवार, कहा- उनकी नौटंकी जनता ने कब की बंद कर दी

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री देश की जनता के साथ कोविड का सामना कर रहे हैं तब ये(राहुल गांधी) ऐसे प्रयासों के लिए नौटंकी शब्द का उपयोग करते हैं, ये देश और जनता का अपमान है। हम उनकी नौटंकी ऐसे शब्द का इस्तेमाल नहीं करेंगे क्योंकि उनकी नौटंकी जनता ने कब की बंद कर दी है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए प्रधानमंत्री मोदी समते केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। जिसके जवाब बीजेपी की तरफ से केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दिया। राहुल ने देश में कोरोना की दूसरी लहर के लिए प्रधानमंत्री की नौटंकी को जिम्मेदार बताया था। जवाब में प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कि उनकी नौटंकी जनता ने बंद कर दी है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री देश की जनता के साथ कोविड का सामना कर रहे हैं तब ये(राहुल गांधी) ऐसे प्रयासों के लिए नौटंकी शब्द का उपयोग करते हैं, ये देश और जनता का अपमान है। हम उनकी नौटंकी ऐसे शब्द का इस्तेमाल नहीं करेंगे क्योंकि उनकी नौटंकी जनता ने कब की बंद कर दी है। 

इसे भी पढ़ें: राहुल ने टूलकिट को बताया झूठ, कहा- कोरोना की दूसरी लहर के लिए ‘प्रधानमंत्री की नौटंकी’ जिम्मेदार

कांग्रेस शासित राज्यों पर दें ध्यान

 प्रकाश जावडे़कर ने कहा कि भारत का वैक्सीनेशन 2021 में ही दिसंबर के पहले पूरा होगा। राहुल जी अगर वैक्सीन की चिंता करते तो अपने कांग्रेस शासित राज्यों पर ध्यान दो, वहां वैक्सीनेशन में गड़बड़ हो रही है। उनको 1 मई से 18-45 वर्ष के लोगों के लिए जो कोटा दिया गया है, वो तो ले नहीं रहे हैं।

राहुल ने साधा निशाना

राहुल गांधी ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा था कि  ये दूसरी वेव प्रधानमंत्री की ज़िम्मेदारी है, प्रधानमंत्री ने जो नौटंकी की, अपनी ज़िम्मेदारी पूरी नहीं की उसका कारण दूसरी वेव है। अगर वैक्सीनेशन इसी तरह से चलता गया तो मई 2024 में हिन्दुस्तान की पूरी जनता का वैक्सीनेशन होगा।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।