जयंत चौधरी ने किसानों से कहा- आपकी पगड़ी कभी झुकने नहीं दूंगा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 19, 2021   14:49
जयंत चौधरी ने किसानों से कहा- आपकी पगड़ी कभी झुकने नहीं दूंगा

छपरौली के श्री विद्या मंदिर इंटर कॉलेज के मैदान में चौधरी अजित सिंह की श्रद्धांजलि सभा एवं रस्म पगड़ी कार्यक्रम में जयंत चौधरी ने हवन में आहुति दी।

बागपत। राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने रविवार को यहां छपरौली में किसानों की लड़ाई लड़ने का वचन देते हुए उनसे कहा कि वह उनकी पगड़ी कभी झुकने नहीं देंगे। उन्होंने कहा, “आपकी पगड़ी कभी झुकने नहीं दूंगा, जैसे जनता का सारा आशीर्वाद पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह और पूर्व केन्द्रीय मंत्री अजित सिंह को मिलता रहा, वैसे ही आशीर्वाद मुझे मिलेगा। मैं हमेशा आपके बीच रहूंगा और जब भी मान सम्मान की बात आएगी, कभी झुकूंगा नहीं। बागपत के छपरौली में रविवार को पूर्व केन्द्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह की रस्म पगड़ी और श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया जिसमें उत्‍तर प्रदेश के कई जिलों के अलावा हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, राजस्थान आदि राज्‍यों के लोग पहुंचे थे। इन सभी राज्यों से खापों के चौधरी भी रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी को पगड़ी पहनाने के लिए आये थे। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में डेंगू से हालात गंभीर, भाजपा सरकार बचाने में व्यस्त : रालोद

छपरौली के श्री विद्या मंदिर इंटर कॉलेज के मैदान में चौधरी अजित सिंह की श्रद्धांजलि सभा एवं रस्म पगड़ी कार्यक्रम में जयंत चौधरी ने हवन में आहुति दी। उन्होंने कार्यक्रम में पहुंचे लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। वहां विभिन्न समाज और खाप के चौधरियों ने पहुंचकर अपने-अपने समाज की पगड़ी जयंत चौधरी के सिर पर बांधी। मंच से एलान किया गया कि अब जयंत चौधरी हमारे सेनापति होंगे। भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने भी यहां पहुंचकर चौधरी अजित सिंह को श्रद्धासुमन अर्पित किया। कार्यक्रम में पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री सोमपाल शास्त्री, गठवाला खाप के चौधरी राजेंद्र सिंह, गुलाम मोहम्मद जोला, राजपूत समाज से पूरन सिंह, यूजीसी के पूर्व चेयरमैन वेद प्रकाश कार्यक्रम में मौजूद रहे। रालोद के राष्ट्रीय मीडिया प्रकोष्ठ के संयोजक सुरेन्द्र कुमार शर्मा ने बताया कि छपरौली ही पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह और उनके बेटे पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह की कर्मभूमि रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...