नड्डा ने गुवाहाटी में जारी किया संकल्प पत्र, सरकारी क्षेत्रों में 2 लाख और प्राइवेट में 8 लाख नौकरियों का वादा

JP Nadda
अनुराग गुप्ता । Mar 23, 2021 10:49AM
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ, मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनेवाल, हेमंत विश्वा सरमा समेत कई पदाधिकारी मौजूद रहे।

गुवाहाटी। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने असम विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का संकल्प पत्र घोषित किया। इस दौरान जेपी नड्डा के साथ, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनेवाल, हेमंत विश्वा सरमा समेत कई पदाधिकारी मौजूद रहे। 

संकल्प पत्र जारी करते हुए जेपी नड्डा ने कहा कि हमने विकास की गति प्राप्त की है। हम एक बड़ी छलांग के लिए खड़े हैं। इन आकांक्षाओं के साथ हमने असम के लोगों के लिए 10 संकल्प बनाए हैं।

भाजपा के 10 संकल्प 

  1. मिशन ब्रह्मपुत्र: बाढ़ की समस्या को रोकने का प्रयास किया जाएगा। इसके साथ ही बाढ़ के पानी को जलाशय बनाकर संग्रहित करेंगे। 
  2. ओरुनोडोई योजना के तहत 30 लाख योग्य परिवारों को प्रति माह 3,000 रुपये की वित्तीय सहायता का भुगतान किया जाएगा।
  3. नामघर के माध्यम से अवैध अतिक्रमण को रोका जाएगा। इसके साथ ही पुनर्निर्माण के लिए हर किसी को 2.5 लाख रुपये की मदद देंगे।
  4. मिशन शिशु उन्नयन के तहत हम गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। कक्षा आठवीं के बाद की बालिकाओं को साइकिल प्रदान करेंगे। ताकि इन्हें मुख्यधारा में लाया जा सकें। 
  5. हम असम की सुरक्षा के लिए एक सही एनआरसी पर काम करेंगे। हम वास्तविक भारतीय नागरिकों की रक्षा करेंगे और घुसपैठियों का पता लगाएंगे। ताकि सही मायने में असम, असम का रहे।
  6. असम के राजनीतिक अधिकारों की रक्षा के लिए परिसीमन प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा।
  7. असम को आत्मनिर्भर बनाने के लिए 'असम आहार आत्मनिर्भरता' कार्यक्रम को चलाएंगे। इसके लिए हम माइक्रो और मैक्रो स्तर पर योजना बनाएंगे और इसे कई क्षेत्रों में आगे ले जाएंगे। 
  8. असम देश में सबसे ज़्यादा तेज़ी से नौकरियां पैदा करने वाला राज्य बनेगा। सरकारी क्षेत्रों में 2 लाख लोगों को नौकरियां देंगे और उसके लिए 1 लाख लोगों को 31 मार्च 2022 तक देने की है। इसके अतिरिक्त निजी क्षेत्र में 8 लाख नौकरियों की व्यवस्था की जाएगी।
  9. उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए वातावरण बनाएंगे और उद्यमी स्कूल खोलेंगे। इसके तहत हम पांच साल में 10 लाख लोगों को उद्यमी के तौर पर विकसित करेंगे। 
  10. भारतीयों को जमीन का मालिकाना हक दिया जा सके। यह काम किया जाएगा।

यहां सुने पूरा भाषण: 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़