मध्यप्रदेश में कमलनाथ ने नेता प्रतिपक्ष पद से दिया इस्तीफा, गोविंद सिंह को मिली जिम्मेदारी

मध्यप्रदेश में कमलनाथ ने नेता प्रतिपक्ष पद से दिया इस्तीफा, गोविंद सिंह को मिली जिम्मेदारी
kamal nath

खबर तो यह भी है कि कमलनाथ फिलहाल पीसीसी चीफ का पद ही संभालेंगे। यानी कि वह मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष बने रहेंगे। कमलनाथ के इस्तीफे को पार्टी ने तुरंत स्वीकार भी कर लिया है। इसकी पुष्टि कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने की है।

मध्यप्रदेश में 2023 के आखिर में चुनाव होने हैं। लेकिन कहीं ना कहीं राजनीतिक हलचल फिलहाल तेज होती दिखाई दे रही है। जानकारी के मुताबिक मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया है। कमलनाथ की जगह डॉक्टर गोविंद सिंह को नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी दी गई है। खबर तो यह भी है कि कमलनाथ फिलहाल पीसीसी चीफ का पद ही संभालेंगे। यानी कि वह मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष बने रहेंगे। कमलनाथ के इस्तीफे को पार्टी ने तुरंत स्वीकार भी कर लिया है। इसकी पुष्टि कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने की है।

वही जिम्मेदारी मिलने के बाद गोविंद सिंह ने कहा कि जो भरोसा मुझ पर दिखाया गया है और जो भी जिम्मेदारी दी गई है उसका निर्वाहन वह पूरी ईमानदारी के साथ करेंगे। गोविंद सिंह ने दावा किया कि पार्टी पहले भी मजबूत थी और आज भी मजबूत है और इसके खिलाफ जो भी साजिश रची गई है, उसका जवाब चुनाव में मिल जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि यह सरकार लोगों पर अत्याचार कर रही है। उसके खिलाफ कांग्रेस लगातार लड़ाई लड़ रही है। दूसरी ओर कमलनाथ के इस्तीफे की चिट्ठी को तुरंत स्वीकार कर लिया गया। इसके साथ ही पार्टी की ओर से कहा गया है कि नेता प्रतिपक्ष के तौर पर आपके योगदान की पार्टी सराहना करती है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।