कमलनाथ की बढ़ी मुश्किलें, बिहार की अदालत में परिवाद पत्र दायर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 19, 2018   19:51
कमलनाथ की बढ़ी मुश्किलें, बिहार की अदालत में परिवाद पत्र दायर

कमलनाथ की उक्त विवादित टिप्पणी का जहां बिहार में सत्तारूढ़ जदयू और भाजपा ने देश के संघीय ढांचे के लिए खतरनाक बताया था वहीं कांग्रेस की सहयोगी पार्टी राजद ने कहा था कि उन्हें ऐसे बयान देने से बचना चाहिए।

 मुजफ्फरपुर। बिहार के मुजफ्फरपुर की एक अदालत में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ बिहार और उत्तरप्रदेश के लोगों को लेकर की गयी विवादित टिप्पणी को लेकर बुधवार को एक परिवाद पत्र दायर किया गया। सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाश्मी ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में कमलनाथ के खिलाफ उक्त परिवाद पत्र भादवि की धारा 153 और 504 के तहत बुधवार को दायर कराया।

याचिकाकर्ता ने दावा किया है कि कमलनाथ की टिप्पणी से दोनों प्रदेश के लोग आहत हुए हैं। उल्लेखनीय है कि कमलनाथ ने निवेश को प्रोत्साहन देने वाली योजना की घोषणा करते हुए गत 18 दिसंबर को कहा था कि मध्य प्रदेश के लोग बेरोज़गार रह जाते हैं जबकि उत्तर प्रदेश एवं बिहार के लोग नौकरियां ले जाते हैं। उन्होंने मध्य प्रदेश के 70 प्रतिशत कर्मचारियों को रोजगार देने पर निवेशकर्ता कंपनी को प्रोत्साहन देने की बात की।

यह भी पढ़ें: अपने बयान का कमलनाथ ने किया बचाव, कहा- रोजगार समस्या अन्य राज्यों में भी

कमलनाथ की उक्त विवादित टिप्पणी का जहां बिहार में सत्तारूढ़ जदयू और भाजपा ने देश के संघीय ढांचे के लिए खतरनाक बताया था वहीं कांग्रेस की सहयोगी पार्टी राजद ने कहा था कि उन्हें ऐसे बयान देने से बचना चाहिए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।