...तो केजरीवाल ओसामा बिन लादेन बन गए होते: कपिल मिश्रा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 6 2019 7:03PM
...तो केजरीवाल ओसामा बिन लादेन बन गए होते: कपिल मिश्रा
Image Source: Google

जेएनयू में वामपंथ समर्पित छात्र संघों पर निशाना साधते हुए मिश्रा ने कहा कि वामपंथ दुनिया भर में ढह गया है लेकिन कुछ लोग अब भी इससे चिपके हुए हैं।

 नयी दिल्ली। आम आदमी पार्टी के बागी विधायक कपिल मिश्रा ने यहां कहा कि ऐसा माना जाता है कि पुलवामा में हमला करने वाला आदिल अहमद डार पुलिस की पिटाई से आतंकवादी बना। अगर एक थप्पड़ व्यक्ति को आतंकवादी बना देता है तो दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अब तक ओसामा बिन लादेन बन गए होते। आरएसएस समर्थित एबीवीपी की जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय की इकाई की ओर से आयोजित एक जनसभा को मंगलवार को संबोधित करते हुए मिश्रा ने केजरीवाल पर तंज कसा और कहा कि नक्सली और कम्युनिस्ट न केवल जेएनयू से निकले हैं बल्कि आईआईटी से भी निकलते हैं।

 


उन्होंने कहा, ‘‘ कुछ लोग कह रहे हैं कि पुलवामा हमले का आरोपी आदिल अहमद डार पुलिस की पिटाई के बाद आतंकवादी बना। अगर एक तमाचा आपको आतंकवादी बना सकता है तो केजरीवाल तो ओसमा बिन लादेन बन गए होते।’’ वर्ष 2014 के चुनाव प्रचार के दौरान दिल्ली और हरियाणा में केजरीवाल को अलग अलग जगह तीन लोगों ने तमाचा मारा था। बाद में एक ऑटो रिक्शा चालक ने उनसे माफी मांग ली थी। आप प्रमुख ने हमलों के लिए भाजपा की ओर इशारा किया था।
 
 
जेएनयू में वामपंथ समर्पित छात्र संघों पर निशाना साधते हुए मिश्रा ने कहा कि वामपंथ दुनिया भर में ढह गया है लेकिन कुछ लोग अब भी इससे चिपके हुए हैं। करावल नगर से विधायक ने कहा, ‘‘आप जेएनयू की प्रतिष्ठता फिर से स्थापित करने की लड़ाई लड़ रहे हैं जिसपर राष्ट्र विरोधी का तमगा लगा हैं लेकिन कम्युनिस्ट, नक्सली सिर्फ जेएनयू से नहीं निकलते हैं। कुछ आईआईटी से भी निकले हैं और ऐसे ही एक नक्सली से में लड़ रहा हूं।’’

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप