शिअद नेता मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ एलओसी जारी की गई: पुलिस

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 26, 2021   17:49
शिअद नेता मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ एलओसी जारी की गई: पुलिस

दिल्ली पुलिस ने सोमवार को यहां एक अदालत को सूचित किया कि शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ धन की हेराफेरी के मामले में ‘लुक आउट सर्कुलर’ (एलओसी) जारी किया गया है।

नयी दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने सोमवार को यहां एक अदालत को सूचित किया कि शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ धन की हेराफेरी के मामले में ‘लुक आउट सर्कुलर’ (एलओसी) जारी किया गया है। सिरसा, दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के महासचिव के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान धन की कथित हेराफेरी के मामले में जांच का सामना कर रहे हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए पुलिस को दिये गये अदालत के पहले के निर्देश के अनुपालन में यह कदम उठाया गया है कि सिरसा न्याय से न भागें।

इसे भी पढ़ें: ओलंपिक पदक विजेता मीराबाई चानू लौटीं स्वदेश, दिल्ली एयरपोर्ट पर हुआ गर्मजोशी से स्वागत

मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट पंकज शर्मा के समक्ष दाखिल स्थिति रिपोर्ट में कहा गया है, “अदालत के समक्ष प्रस्तुत पिछली स्थिति रिपोर्ट के क्रम में और अदालत के नौ जुलाई के आदेश के अनुपालन में, मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ एलओसी जारी की गई है। मामले की जांच जारी है।’’ अदालत ने यह निर्देश शिकायतकर्ता के वकील संजय एबट्ट द्वारा यह बताए जाने के बाद दिया था कि सिरसा पहले ही अपनी संपत्ति बेच चुके है और उड़ानें शुरू होते ही वह भागने की प्रक्रिया में हैं।

इसे भी पढ़ें: 370 हटाये जाने के बाद कितना बदला जम्मू-कश्मीरः प्रभासाक्षी की खास श्रृंखला की पहली रिपोर्ट

दिल्ली पुलिस ने हालांकि अदालत को बताया था कि आरोपियों के खिलाफ एलओसी नहीं जारी की गई थी क्योंकि वे पूछताछ में शामिल हो रहे हैं। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने इस शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज की थी कि सिरसा 2013 की घटना के समय डीएसजीएमसी के महासचिव थे और उन्होंने सार्वजनिक धन का कथित तौर पर गलत ढंग से नुकसान किया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।