लॉकडाउन 4.0 : मनोज तिवारी क्रिकेट खेलने हरियाणा गए, आप ने आलोचना की

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 25, 2020   22:12
लॉकडाउन 4.0 : मनोज तिवारी क्रिकेट खेलने हरियाणा गए, आप ने आलोचना की

सिंह ने आरोप लगाए कि देश में कोरोना वायरस और उसके कारण जारी लॉकडाउन के समय जब देश के प्रवासी श्रमिक मानवीय संकट के दौर से गुजर रहे हैं तब तिवारी का क्रिकेट खेलना ‘‘असंवेदनशीलता’’ को दर्शाता है।

नयी दिल्ली। आम आदमी पार्टी ने कोविड-19 के कारण ‘‘सील की गई सीमा’’ पार कर पड़ोसी राज्य हरियाणा में क्रिकेट खेलने जाने के लिए दिल्ली भाजपा के प्रमुख मनोज तिवारी की सोमवार को आलोचना की। पार्टी ने उन पर लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने के आरोप लगाए। बहरहाल, तिवारी ने कहा कि उन्होंने कोई कानून नहीं तोड़ा। उन्होंने पलटवार करते हुए कहा कि आप ने अपने विधायक प्रकाश जारवाल के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों से मीडिया का ‘‘ध्यान भटकाने’’ के लिए यह मुद्दा उठाया है। तिवारी ने कहा, ‘‘मैंने किसी नियम का उल्लंघन नहीं किया। गृह मंत्रालय के आदेश के मुताबिक लॉकडाउन चार में खेल के मैदान और स्टेडियम बिना दर्शकों के खोलने की अनुमति है। हरियाणा की यात्रा करने के लिए मेरे पास अनुमति थी।’’

दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष ने रविवार को यहां से 30 किलोमीटर दूर हरियाणा के सोनीपत में गनौर का दौरा किया था और स्थानीय स्टेडियम में क्रिकेट खेला था। आप के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने तिवारी पर हमला करते हुए कहा कि दिल्ली भाजपा अध्यक्ष का यह ‘‘पूरी तरह असंवेदनशील कार्य’’ है जो कोविड-19 के कारण जारी लॉकडाउन के नियमों का ‘‘उल्लंघन’’ कर दूसरे राज्य में क्रिकेट खेलने गए। 

इसे भी पढ़ें: लॉकडाउन में मनोज तिवारी के क्रिकेट खेलने के मामले में स्टेडियम के एमडी को नोटिस

सिंह ने आरोप लगाए कि देश में कोरोना वायरस और उसके कारण जारी लॉकडाउन के समय जब देश के प्रवासी श्रमिक मानवीय संकट के दौर से गुजर रहे हैं तब तिवारी का क्रिकेट खेलना ‘‘असंवेदनशीलता’’ को दर्शाता है। बहरहाल, तिवारी ने आप पर प्रहार करते हुए आरोप लगाया कि महानगर में ‘‘जल टैंकर माफिया’’ चलाया जा रहा है और आप के नेता एक डॉक्टर द्वारा आत्महत्या करने के सिलसिले में विधायक प्रकाश जारवाल की गिरफ्तारी से ध्यान भटकाने का प्रयास कर रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।