लोकसभा चुनाव: BJP की पहली सूची में राजस्थान के 14 मौजूदा सांसदों का नाम

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 22, 2019   15:59
लोकसभा चुनाव: BJP की पहली सूची में राजस्थान के 14 मौजूदा सांसदों का नाम

राज्य के लिए पार्टी की सूची में एक नया नाम नरेंद्र खीचड़ का है जिन्हें पार्टी ने झुंझुनू सीट पर प्रत्याशी बनाया है। भाजपा ने मौजूदा सांसद संतोष अहलावत को इस बार इस सीट पर मौका नहीं दिया है।

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी ने राजस्थान में अपने 14 मौजूदा सांसदों को आगामी लोकसभा चुनाव में एक बार फिर समर में उतारने का फैसला किया है जिनमें चार केंद्रीय मंत्री शामिल हैं। भाजपा ने आम चुनावों के लिए 184 प्रत्याशियों की सूची बृहस्पतिवार को नयी दिल्ली में जारी की जिसमें राजस्थान के लिए 16 प्रत्याशी घोषित किए गए हैं। राज्य में लोकसभा की कुल 25 सीटें हैं।

राज्य के लिए पार्टी की सूची में एक नया नाम नरेंद्र खीचड़ का है जिन्हें पार्टी ने झुंझुनू सीट पर प्रत्याशी बनाया है। भाजपा ने मौजूदा सांसद संतोष अहलावत को इस बार इस सीट पर मौका नहीं दिया है। खीचड़ फिलहाल मंडावा से विधायक हैं। भाजपा ने केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल (बीकानेर), राज्यवर्धन सिंह राठौड़ (जयपुर ग्रामीण), पी पी चौधरी (पाली) और गजेंद्र सिंह शेखावत (जोधपुर) का नाम भी अपनी पहली सूची में शामिल किया है। 

इसे भी पढ़ें: PM जुमलों और जेटली ब्लॉगिंग में व्यस्त, अर्थव्यवस्था तहस-नहस: येचुरी

राजनीतिक जानकारों के अनुसार, इनमें से कई नामों को पहली सूची में शामिल कर पार्टी आलाकमान ने कार्यकर्ताओं तक स्पष्ट संदेश देने की कोशिश की है क्योंकि चौधरी तथा मेघवाल का उनकी सीटों पर कार्यकर्ताओं का एक वर्ग स्पष्ट रूप से विरोध कर रहा था। इस तरह की अटकलें भी थीं कि इनकी सीटें बदली जा सकती हैं। वहीं पार्टी ने गंगानगर सीट पर मौजूदा सांसद निहाल चंद पर भी भरोसा जताया है। पार्टी ने सीकर से सुमेधानंद सरस्वती, जयपुर से रामचरण बोहरा, टोंक सवाई माधोपुर से सुखबीर सिंह जौनपुरिया, जालोर से देवजी पाटिल, उदयपुर से अर्जुन मीणा, चित्तौड़गढ़ से चंद्रप्रकाश जोशी, भीलवाड़ा से सुभाष बहेरिया, कोटा से ओम बिड़ला और झालावाड़ बारां से दुष्यंत सिंह को अपना प्रत्याशी बनाया है। ये सभी मौजूदा सांसद हैं। दुष्यंत सिंह पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पुत्र हैं।  जयपुर से सांसद रामचरण बोहरा ने अपने नाम की घोषणा के बाद कहा, ‘पार्टी ने एक बार फिर मुझ पर भरोसा जताया है और इसकी वजह वह काम है जो मैंने अपने इलाके में किया। पिछली बार मैं सबसे अधिक वोटों से जीता और इस बार भी मुझे इसी तरह की जीत की उम्मीद है।’

उल्लेखनीय है कि जयपुर के पूर्व राजघराने की सदस्य दीयाकुमारी जयपुर औरटोंक सवाई माधोपुर सीट से दावेदारी कर रही हैं। लेकिन अभी उन्हें टिकट नहीं दिया गया है। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष मदन लाल सैनी ने कहा है कि पार्टी का लक्ष्य मिशन 25 के तहत सभी सीटें जीतना है। पार्टी बाकी बची सीटों के लिए भी अपने प्रत्याशियों की सूची जल्द जारी करेगी। पार्टी ने अजमेर सीट पर भागीरथ चौधरी को अपना प्रत्याशी बनाया है। उपचुनाव में यह सीट कांग्रेस के रघु शर्मा ने जीती थी। हालांकि रघु शर्मा अब विधायक और राज्य सरकार में मंत्री हैं। राजस्थान में लोकसभा की कुल 25 सीटें हैं। राज्य में लोकसभा चुनाव दो चरणों में होंगे। पहले चरण में 29 अप्रैल को 13 सीटों पर और छह मई को 12 सीटों पर चुनाव होगा। तय कार्यक्रम के अनुसार टोंक सवाई माधोपुर, अजमेर, पाली, जोधपुर, बाड़मेर, जालोर, उदयपुर, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़, राजसमंद, भीलवाड़ा, कोटा और झालावाड़ बारां सीट के लिए 29 अप्रैल को मतदान होगा। वहीं राज्य की गंगानगर, बीकानेर, झुंझुनू, सीकर, जयपुर ग्रामीण, जयपुर, अलवर, भरतपुर, करौली धौलपुर, दौसा और नागौर सीट के लिए छह मई को मतदान होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।