लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मानसून सत्र से पहले कोरोना को लेकर तैयारियों का लिया जायजा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 28, 2020   17:56
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मानसून सत्र से पहले कोरोना को लेकर तैयारियों का लिया जायजा

संसद का मानसून सत्र 14 सितंबर से शुरू होने और 1 अक्तूबर को समाप्त होने की संभावना है। बैठक के बाद बिरला ने कहा, ‘‘ दोनों सदनों (राज्यसभा और लोकसभा) में बैठने की व्यवस्था कोविड-19 के मद्देनजर स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुरूप होगी। सत्र आयोजित करने के लिये व्यापक व्यवस्था की गई है। ’’

नयी दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कोविड-19 के मद्देनजर संसद के आगामी मानसून सत्र की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिये दोनों सदनों के अधिकारियों, स्वास्थ्य मंत्रालय, डीआरडीओ तथा अन्य एजेंसियों के अधिकारियों के साथ बैठक की। संसद का मानसून सत्र 14 सितंबर से शुरू होने और 1 अक्तूबर को समाप्त होने की संभावना है। बैठक के बाद बिरला ने कहा, ‘‘ दोनों सदनों (राज्यसभा और लोकसभा) में बैठने की व्यवस्था कोविड-19 के मद्देनजर स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुरूप होगी। सत्र आयोजित करने के लिये व्यापक व्यवस्था की गई है। ’’ इस बैठक में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निदेशक डा. रणदीप गुलेरिया, भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के महानिदेशक बलराम भार्गव, स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण एवं अन्य अधिकारी मौजूद थे। 

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने गठित की 5 सदस्यीय समिति, जयराम रमेश होंगे राज्यसभा में मुख्य सचेतक

लोकसभा अध्यक्ष ने बृहस्पतिवार को लोकसभा और राज्यसभा के महासचिवों के साथ बैठक की थी। उन्होंने कहा था कि मानसून सत्र के दौरान संसद निर्बाध रूप से चले, यह हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। इस हेतु सुरक्षा के व्यापक इंतजाम होंगे। बिरला ने ट्वीट किया था कि मानसून सत्र की तैयारियों को गति प्रदान करने के लिए आयोजित बैठक में सीपीडब्ल्यूडी एवं एनडीएमसी को स्वच्छता-सफाई तथा अन्य व्यवस्था के संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश दिए गये। उन्होंने कहा था कि सांसदों व उनके स्टाफ के लिए प्रोटोकाल तैयार किए जा रहे हैं। संसद के कर्मचारियों के लिए दिशानिर्देश बनाए जा रहे हैं। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि सत्र के दौरान सामाजिक दूरी को लेकर सभी दिशा निर्देशों का अनुपालन किया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।