एक बार फिर चुनी गई मीनाक्षी लेखी, दिल्ली को नहीं मिली दूसरी महिला सांसद

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 25 2019 9:57AM
एक बार फिर चुनी गई मीनाक्षी लेखी, दिल्ली को नहीं मिली दूसरी महिला सांसद
Image Source: Google

मौजूदा सांसद एवं भाजपा उम्मीदवार मीनाक्षी लेखी नयी दिल्ली सीट से उम्मीदवार थी। वह 2014 के चुनाव में भी दिल्ली से संसद पहुंचने वाली एकमात्र महिला थी।

नयी दिल्ली। दिल्ली से इस आमचुनाव में भी सिर्फ एक महिला उम्मीदवार ही संसद पहुंच सकी। राज्य में भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी, पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और आप की आतिशी सहित कुल 16 महिला उम्मीदवार चुनाव मैदान में थीं। हालांकि, सिर्फ लेखी ही जीत हासिल कर सकी। दिल्ली में लोकसभा की कुल सात सीटें हैं। मौजूदा सांसद एवं भाजपा उम्मीदवार मीनाक्षी लेखी नयी दिल्ली सीट से उम्मीदवार थी। वह 2014 के चुनाव में भी दिल्ली से संसद पहुंचने वाली एकमात्र महिला थी। 2004 और 2009 के लोकसभा चुनावों में कांग्रेस की कृष्णा तीरथ ही एकमात्र महिला उम्मीदवार थी, जो दिल्ली की किसी सीट से विजयी घोषित हुई थी।

इसे भी पढ़ें: 2020 के विधानसभा चुनाव में भाजपा और कांग्रेस को टक्कर देगी AAP

दिल्ली में चुनाव लड़ने वाले 164 उम्मीदवारों में केवल 16 महिलाएं थी। उनमें लेखी सहित कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित और आम आदमी पार्टी की आतिशी भी शामिल थी। नयी दिल्ली लोकसभा सीट से चुनाव लड़ते हुए लेखी ने कांग्रेस के अजय माकन को 2.56 लाख से अधिक वोटों के अंतर से हराया। दीक्षित को दिल्ली भाजपा प्रमुख मनोज तिवारी से उत्तर पूर्वी दिल्ली सीट पर 3.66 लाख से अधिक मतों के अंतर से शिकस्त मिली। वहीं, पूर्वी दिल्ली में त्रिकोणीय मुकाबले में आतिशी को तीसरा स्थान मिला।क्रिकेटर से नेता बने गौतम गंभीर ने इस सीट पर जीत हासिल की और कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली दूसरे स्थान पर रहे। इस चुनाव में 13 अन्य महिला उम्मीदवार या तो निर्दलीय थी, या किसी अन्य छोटे दलों से थी। 



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video